परिकर को दो बार लेनी पड़ी शपथ, समर्थन देने वाले 7 विधायकों को बनाया मंत्री

12
SHARE

गोवा में मनोहर परिकर ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। मुख्यमंत्री परिकर ने कोंकणी भाषा में शपथ ली उन्हें दो बार शपथ लेनी पड़ी। असल में पहली बार शपथ लेने के दौरान परिकर ने मुख्यमंत्री की बजाय मंत्री का उच्‍चारण किया जिसकी वजह से उन्हें दोबारा शपथ दिलवाई गई। परिकर के साथ ही 8 अन्य विधायकों ने भी मंत्रिपद की शपथ ली। खास बात ये है कि भाजपा को समर्थन देने वाले आठ विधायकों में से सात को मंत्री बनाया गया है|

बता दें कि चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री बनाए गए 62 साल के परिकर ने रक्षामंत्री का पद छोड़कर दोबारा राज्य की राजनीति में वापसी की है। 16 मार्च को उन्हें विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है|

बता दें कि गोवा में हालिया चुनाव के बाद भाजपा ने 13 सीटें जीती हैं जबकि 17 सीटें लेकर भाजपा पहले नंबर पर रही हैं। लेकिन भाजपा ने फारवर्ड पार्टी, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा पेश किया, जिसे राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने स्वीकार कर लिया|