सीतापुर में आदमखोर कुत्तों का आतंक: दो बच्चों को मारा, अब तक 13 की मौत,100 से ज्यादा घायल

57
SHARE

सीतापुर में आज फिर से खैराबाद क्षेत्र में कुत्तों ने चार बच्चों को निशाना बनाया है। इनमें दो बच्चों की मौत हो गई जबकि दो घायल हो गए। मासूमपुर गांव की सात साल की गीता को कुत्तों ने नोच-नोच कर मार डाला। गांव वालों के अनुसार सुशील की सात साल की बेटी गीता आज सुबह घर के बाहर निकली ही थी कि पहले से घात लगाए आदमखोर कुत्तों ने उस पर अचानक से हमला कर उसको नोच डाला। इसके अलावा बुढ़ानापुर में सुबह दस बजे आम के बाग में गए दस साल के वीरेंद्र पुत्र राजेंद्र को कुत्तों ने नोच नोच कर मार डाला। इसके अलावा चौबेपुर व पीरपुर में दो लोग घायल हुए हैं।

जिसमें रिंकी (16) पुत्री तेजपाल निवासी चौबेपुर थाना खैराबाद व रिकंल (8) पुत्र राम खेलावन निवासी पीरपुर थाना खैराबाद शामिल हैं। बताया जा रहा कि अब तक 20 बच्चों की कुत्तों के हमले से मौत हो चुकी है। जबकि 100 से अधिक में बच्चे और बडे़ घायल हो गये हैं। बताया जा रहा है कि कुत्तों को लगातार पकड़ने और मारने के लिये पूरे जिले का प्रशासनिक अमला लगा हुआ है। सिटी मजिस्ट्रेट की देखरेख में चार टीमें बनाई गई हैं।

क्षेत्र के टिकरिया, गुरपलिया व कोलिया पहाड़पुर में एक ही दिन में आदमखोर कुत्तों का शिकार हुए तीन बच्चों की मौत के बाद आदमखोर कुत्तों का सफाया शुरू हो गया है। गुरुवार को लाठी-डंडों और गोलियों से 10 कुत्तों को मार गिराने की खबर है। सिटी मजिस्ट्रेट के मुताबिक मथुरा की एक्सपर्ट टीम ने 22 और अफसरों की टीम ने 10 कुत्तों को पकड़ा है। इन कुत्तों को जंगल में छोडऩे की तैयारी है।

तड़के करीब साढ़े चार बजे ही सिटी मजिस्ट्रेट हर्ष देव पांडेय, एसडीएम सदर शशांक त्रिपाठी, सीओ सिटी योगेंद्र सिंह सहित प्रशासन-पुलिस के अन्य अधिकारी व कर्मचारी इलाके में आदमखोर कुत्तों की खोज में निकल पड़े। इसके अलावा आक्रोशित ग्रामीणों ने भी कुत्तों को निशाना बनाए रखा। इस दौरान कुत्तों पर फायरिंग भी की गई। ग्रामीणों को जहां भी कुत्ते नजर आए, वहां पर वे लाठी-डंडे और असलहे लेकर उन पर कूद पड़े।

दिन भर में करीब 10 कुत्तों को मारे जाने की खबर है। गुरुवार को टीमों का रुख गुरपलिया से रहीमाबाद और थाना कार्यालय से टिकरिया तक रहा। उधर, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा विधायक, एमएलसी सीतापुर व पूर्व विधायकों का प्रतिनिधि मंडल भी गांव गया। वहां पर लोगों से मिलकर पूछताछ की। अब प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय अध्यक्ष को रिपोर्ट भेजेगा। मथुरा की डॉग कैचर टीम के सदस्य शकील ने बताया कि उनके साथी खैराबाद कस्बे में 10 दिन तक रहेंगे।

source-Dainik Jagran