सीमा पार भी करते रहेंगे कश्मीरियों की मदद: पाक आर्मी चीफ

82
SHARE

पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर बाजवा ने कहा है कि वो कश्मीरी भाईयों के साथ हैं। पर सीमा पार कश्मीर में ही। बाजवा ने साफ कहा है कि वो कश्मीरियों के हक के लिए उन्हें सीमा पार अनाधिकारिक तौर पर सहयोग करते रहेंगे, लेकिन एलओसी के पार पाकिस्तानी इलाके में न तो कश्मीरियत के लिए कोई जगह है, न ही अलगाववाद के लिए। बाजवा का ये बयान पाकिस्तान के कश्मीरियों को लेकर दोहरे रवैय्ये को भी दिखाता है।

पाक आर्मी चीफ कमर बाजवा ने शनिवार को एलओसी में मुजफ्फराबाद सेक्टर के दौरे के बाद ये बयान दिया, जिसे पाकिस्तानी सुरक्षाबलों के मीडिया विंग इंटर-सर्विसेज पब्लिस रिलेशंस ने जारी किया। पाक अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक कमर बाजवा ने ये भी कहा कि सीमा पर भारत की ओर से होने वाली किसी भी हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए पाक आर्मी हमेशा तैयार है।

बाजवा ने भारतीय सेना को चेताते हुए भी कहा कि पाक सेना हर तरह की स्थितियों से निपटने को तैयार है। उन्होंने भारतीय सेनाध्यक्ष बिपिन रावत के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी थी, जिसमें भारतीय आर्मी चीफ ने कहा था कि भारत अढ़ाई फ्रंटों पर लड़ाई के लिए तैयार है। ये अढ़ाई फ्रंट पाक, चीन और पाक समर्थित अलगाववाद हैं।

कमर बाजवा के बयान को जारी करते हुए इंटर-सर्विसेज पब्लिस रिलेशंस ने कहा है कि पाकिस्तान की सेना ‘अपने कश्मीरी भाईयों के स्वशासन’ के लिए सीमापार में सहयोग देती रहेगी। पर पाक अधिकृत कश्मीर में अलगाववाद की कोई जगह नहीं है।