पाक को चिंता, भारत के पक्ष में अमेरिकी नीति बदल सकते हैं ट्रंप

8
SHARE
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप की जीत ने पाकिस्तान की चिंता बढ़ा दी है। विश्लेषकों की मानें तो पाकिस्तान को इस बात की चिंता सता रही है कि ट्रंप उसके चिर प्रतिद्वंद्वी भारत के पक्ष में अमेरिकी नीति में बदलाव कर सकते हैं।
क्षेत्र में इस्लामाबाद और वाशिंगटन की मित्रता ऐतिहासिक रही है, लेकिन अमेरिका द्वारा पाकिस्तान पर आतंकियों को पनाह देने का आरोप लगाए जाने के बाद दोनों के संबंधों में कड़वाहट आ चुकी है। वैसे पाकिस्तान आतंकियों को शरण देने की बात से इनकार करता रहा है। पाकिस्तान और अमेरिका के संबंध मई में उस समय और खराब हो गए जब पाक सीमा में अमेरिकी ड्रोन हमले में तालिबान नेता मारा गया।

इसके बाद सितंबर में कश्मीर घाटी में आर्मी बेस पर पाकिस्तानी आतंकियों के हमले में 19 जवानों के शहीद होने के बाद भारत के साथ भी उसके संबंधों में तनाव आ गया। उधर, अधिकांश पाकिस्तानी ट्रंप को मुस्लिम विरोधी मानते हैं। एक बार ट्रंप ने मुस्लिमों के अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने का सुझाव दिया था। ऐसे में पाकिस्तान को लग रहा है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद अमेरिका भारत के साथ अपने व्यापारिक रिश्तों को और मजबूत करेगा|