देश के सबसे बड़े राज्य में बीजेपी ने चोरी की, EVM पर सपा, बसपा और कांग्रेस साथ

10
SHARE

बुधवार को राज्यसभा में ईवीएम पर काफी बयान बाज़ी हुई। राजसभा में सपा, बसपा और कांग्रेस ने भाजपा पर ईवीएम में गड़बड़ी के आरोपों लगाए। ईवीएम में गड़बड़ी का मुद्दा मायावती ने उठाया। वो इस पर चर्चा की मांग कर रही थीं। उनका कांग्रेस और समाजवादी ने सपोर्ट किया। डिप्टी स्पीकर पीजे कुरियन ने कहा कि नियम 267 के तहत इस पर चर्चा नहीं हो सकती। इस मुद्दे पर हंगामा करते हुए अपोजिशन के कई लीडर्स स्पीकर की चेयर के पास आ गए और ‘ईवीएम की सरकार नहीं चलेगी, नहीं चलेगी’ के नारे लगाने शुरू कर दिए।

हंगामे के दौरान मायावती ने बीजेपी पर बेईमान होने का आरोप भी लगाया। उन्होंने मध्य प्रदेश के बाई-इलेक्शन में ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों का मुद्दा भी उठाया। समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि ईवीएम की चिप की प्रोग्रामिंग बदली जा सकती है। इस पर डिप्टी स्पीकर ने कहा- इलेक्शन कमीशन इस पर सफाई दे चुका है।

राज्यसभा में कांग्रेस लीडर गुलाम नबी आजाद ने भी ईवीएम में गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगाया। उन्होंने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर सीधा बीजेपी पर निशाना साधा कहा,देश के सबसे बड़े राज्य में बीजेपी ने चोरी की है।आजाद ने आने वाले विधानसभा चुनावों में ईवीएम के इस्तेमाल पर रोक लगाने की मांग की।

अपोजिशन के आरोपों पर लीडर मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ईवीएम से पहले भी कई विधानसभा और लोकसभा चुनाव हुए हैं, तब इस पर सवाल नहीं उठाए गए। उन्होंने कहा कि यह बीजेपी पर नहीं, बल्कि जनता और इलेक्शन कमीशन पर सवाल है। नकवी ने कहा, “22 मार्च को भी सदन में इसी मुद्दे पर 4 घंटे चर्चा हुई थी, लेकिन खोदा पहाड़ निकली चुहिया।”

मायावती ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के रिजल्ट आने के बाद भी ईवीएम में गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगते हुए कहा था की मुस्लिमों की ज्यादा आबादी वाले इलाकों में बीजेपी का जीतना उनके इस शक को पुख्ता करता है।