समलैंगिक महिला दोस्तों ने CM से लगायी परिवार से सुरक्षा की गुहार

28
SHARE

दो महिला दोस्त ने अपने समलैंगिक रिश्ते और सुरक्षा को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ के गोरखनाथ पीठ में गुहार लगाई है, उन्होंने शहर में नैनीताल रोड स्थित डिफेंस कॉलोनी निवासी अपने रिश्तेदारों, बहनों और बहनोइयों से जान का खतरा बताया। सोमवार को दोनों समलैंगिक दोस्त इज्जतनगर थाने पहुंचीं। दोनों युवतियों ने अपने रिश्ते को कानूनी मान्यता देने के लिए इलाहाबाद हाइकोर्ट में भी याचिका डाली है।

गोरखनाथ पीठ तक मामला पहुंचने पर इज्जतनगर पुलिस ने बहनों और परिवार के लोगों को थाने बुलवा लिया। बहनें थाने में ही भिड़ गईं और दो बहनों के बीच जमकर हाथापाई हुई। तीन घंटे तक हंगामा चलता रहा। बाद में पुलिस ने मामला टूंडला से संबंधित होने पर फिरोजाबाद पुलिस को बताने की बात कही।

एक लड़की के पिता और एक की मां यहां रेलवे में चतुर्थ श्रेणी पद पर कार्यरत थीं। मूलरूप से दोनों के परिवार फिरोजाबाद के टूंडला के निवासी हैं। साथ-साथ पढऩे के दौरान एक-दूसरे के साथ समलैंगिक रिश्ते तक बन गए। तीन साल पहले सहेली के साथ पढ़ाई की बात कहकर एक लड़की अपने घर से निकली थी। दो दिन तक घर न आने पर परिजन ने थाने में सूचना दी थी।

बाद में पुलिस ने लड़की को उसकी महिला दोस्त के साथ दिल्ली से बरामद किया था। तब परिवार के सामने दोनों के समलैंगिक रिश्ते होने का खुलासा हुआ था। प्रभारी निरीक्षक इज्जत नगर नरेश त्यागी ने किसी पक्ष ने तहरीर नहीं दी है। उन्होंने बताया कि दोनों लड़कियों को समझाकर उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है।

दोनों के परिवार ने इनके रिश्ते को मानने से इन्कार कर दिया तो वे घर छोड़कर टूंडला में जा बसीं। टूंडला की रेलवे कॉलोनी में एक परिचित के घर में किराये पर रहती हैं। एक लड़की का आरोप है कि कुछ दिन पहले उसके बहन-बहनोई और अन्य लोग हथियारों से लैस होकर टूंडला पहुंचे। जबरन घर ले जाने को गाड़ी में बैठा लिया। विरोध करने पर फायरिंग की।

कॉलोनी वालों के निकलने पर वे भाग गए। पुलिस से मदद मांगी तो उन्होंने टरका दिया। तब गोरखनाथ मंदिर पीठ में पहुंचे। वहां आपबीती बताई तो वहां से बरेली भेजा गया।