वाराणसी में अध‍िकारी 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ ग‍िरफ्तार, र‍िटारयमेंट में थे 24 घंटे बाकी

347
SHARE

वाराणसी में एंटी करप्शन टीम ने जल निगम के यूनिट के परियोजना डायरेक्टर योगेश्वर प्रसाद पांडेय को 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ ग‍िरफ्तार क‍िया है। योगेश्वर प्रसाद के र‍िटारयमेंट होने में मात्र 24 घंटे ही बाकी थे।

एंटी करप्शन ब्यूरो के इंस्पेक्टर राम सागर ने बताया, ”ठेकेदार राम मिलन सिंह सीएनडीएस के माध्यम से कब्रिस्तान की बाउंड्री बनवाई थी। उनका 3 लाख रुपया बकाया था। जिसकी पेमेंट लेने के लिए कई दिनों से चक्कर काट रहे थे। जल न‍िगम के प्रोजेक्ट डायरेक्टर 10 फीसदी रिश्वत मांग रहे थे। ऐसे में तय हुआ क‍ि 20 हजार पहले दे देंगे और बाकी बाद में देंगे। ठेकेदार रिश्वत नहीं देना चाह रहे थे, ऐसे में उन्होंने हमसे संपर्क किया। इसके आधार पर उच्च अधिकारियों से आदेश लेकर ये कार्रवाई की गई। हमलोगों के सामने ही उन्होंने 20 हजार रुपए रिश्वत लिया। इसके बाद उन्हें ग‍िरफ्तार कर ल‍िया गया। इसके अलावा उनके पास से एक लाख 5 हजार रुपए बरामद गए हैं। आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है।”

आरोपी अध‍िकारी योगेश्वर प्रसाद पांडे ने बताया, ”रिटायरमेंट से एक दिन पहले मेरे साथ किसी ने साजिश की। हालांक‍ि, ये साज‍िश क‍िसने की ये बता नहीं है। मैं ब्लड प्रेशर का मरीज हूं।”