नोटबंदी को सर्जिकल स्ट्राइक न कहें, PM मोदी हुए भावुक

10
SHARE

संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्ष के हंगामे और चर्चा को लेकर गतिरोध के बीच भाजपा संसदीय दल ने एक सर्वसम्मत प्रस्ताव पारित करके कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ महायुद्ध छेड़ने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई दी। इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो गए और उन्होंने भाजपा संसदों से कहा कि नोटबंदी को सर्जिकल स्ट्राइक न कहें। यह जनहित में लिया गया फैसला है|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा संसदीय दल की बैठक में पार्टी नेताओं को भी संबोधित किया। मोदी ने कहा, बड़े नोटों को अमान्य करने का कदम कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी मजबूत एवं सतत लड़ाई की शुरुआत है|

प्रधानमंत्री ने कहा कि बड़े नोटों को अमान्य करने का निर्णय अंत नहीं बल्कि कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ मजबूत और सतत लड़ाई की शुरूआत है। संसदीय पार्टी की बैठक में भाजपा के सभी सांसदों को बुलाया गया था ताकि नोटबंदी के विभिन्न आयामों के बारे में उन्हें बताया जा सके। बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि विपक्ष संसद की कार्यवाही बाधित कर रहा है और चर्चा से भाग रहा है। उन्हें (विपक्ष) यह तय करना चाहिए कि कालाधन की बुराई के खिलाफ लड़ाई में वे किस ओर खड़े हैं। इस महत्वपूर्ण पड़ाव पर इन दलों को यह तय करना चाहिए कि वे किधर खड़े हैं। क्या वे ऐसे लोगों के साथ खड़े हैं जो कालेधन की जमाखोरी कर रहे हैं या उनका संरक्षण कर रहे हैं|

इस बैठक के दौरान नोटबंदी पर पारित किए गए प्रस्ताव में कहा गया है, हम प्रधानमंत्री को ऐतिहासिक, साहसी, गरीबोन्मुखी और राष्ट्र के हित में लिये गए इस निर्णय के लिए बधाई देते हैं|