वोट नहीं मिलने पर मायावती ने मुसलमानो को कहा गद्दार: पूर्व BSP नेता नसीमुद्दीन

44
SHARE

बहुजन समाज पार्टी में कभी नंबर दो की हैसियत रखने वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने बर्खास्तगी के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में नसीमुद्दीन ने कहा कि मायावती ने चुनाव नतीजों के बाद मुझे दिल्ली बुलाया और पूछा कि मुसलमानों ने बसपा को वोट क्यों नहीं दिया? बसपा सुप्रीमो ने कहा कि जो मैं जानना चाहती हूं कि उसे अपने नेता को सही-सही बताना चाहिए.

इसके बाद मायावती ने कहा कि विधानसभा चुनावों में अपर कास्ट, पिछड़े वर्ग के मतदाताओं ने भी बसपा को वोट नहीं दिया. इसके साथ दलितों में धोबी, सोनकर, पासी और कोरी ने भी बसपा को वोट नहीं दिया.लंबे समय तक मायावती के विश्वास पात्र रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा, ‘मैंने उनसे कहा कि जब तक गठबंधन नहीं हुआ था. मुसलमान हमारे साथ था, लेकिन गठबंधन होने के बाद मुसलमान कन्फ्यूज हो गया और वोट बंट गया. ऐसा नहीं है कि हमें मुसलमानों को वोट नहीं मिला, लेकिन हां समर्थन कम मिला है.’

उन्होंने कहा, ‘मेरी बात से असहमति जताते हुए बसपा सुप्रीमो ने मुझे गाली दी और कहा कि मैं उन्हें मूर्ख बना रहा हूं. मायावती ने कहा कि मुसलमान धोखेबाज हैं. दाढ़ी वालों ने कभी बसपा का साथ नहीं दिया.’ नसीमुद्दीन ने कहा कि मायावती ने सिर्फ मुसलमानों को ही नहीं बल्कि धोबी, पासी, कोहार सभी को बुरा भला कहा.

अपने ऊपर लगे आरोपों पर नसीमुद्दीन ने कहा कि मेरे और बेटे के खिलाफ लगाए गए आरोप गलत हैं और तथ्यों को छुपाया गया है. सिद्दीकी ने मायावती पर पैसे मांगने के भी आरोप लगाए और कहा कि बसपा सुप्रीमो ने मुझसे 50 करोड़ रुपये मांगे. कहा कि जैसे भी हो पैसा लाओ, तभी पार्टी में आगे बढ़ पाओगे. भले ही तुम्हें इसके लिए अपनी संपत्ति ही क्यों न बेचनी पड़े. उन्होंने कहा, ‘ताज कॉरीडोर मामले में मेरी और मायावती की संपत्ति की जांच हुई. मेरे खिलाफ कोई गड़बड़ी नहीं मिली, जबकि मायावती की संपत्ति के मामले में जालसाजी मिली.’ सिद्दीकी ने कहा कि बीएसपी की बर्बादी के पीछे सतीश मिश्रा का हाथ है.

उन्होंने कहा कि सतीश मिश्रा, मायावती और आनंद कुमार की संपत्ति के बारे में मेरे पास 32 सालों का जानकारी है. अगर खोल दूंगा तो भारत क्या पूरी दुनिया में भूचाल आ जाएगा. उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि सुश्री ने क्या-क्या साजिश रची थी.

Input Source: Aaj Tak