नैनी थाना में बाहुबली अतीक अहमद का समर्पण, भेजा जेल

78
SHARE

माफिया अतीक अहमद ने इलाहाबाद के नैनी थाना में समर्पण कर दिया है। पुलिस ने अतीक अहमद को अपनी कस्डटी में ले लिया है|

जहां से कोर्ट ने अतीक अहमद को जेल भेज दिया। अतीक बोले बयान दर्ज कराने गए थे, वही गिरफ्तार कर लिया गया एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, नैनी में अतीक अहमद की अराजकता के बाद भी पुलिस के लचर रवैए के खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कड़ा रुख दिखाया। इसके बाद माफिया से नेता बने अतीक अहमद की मुश्किलें बढ़ती जा रही थी|

फूलपुर से पूर्व सांसद बाहुबली अतीक अहमद ने लगातार पुलिस की दबिश के बाद आज अतीक अहमद ने नैनी थाना में समर्पण कर दिया। पुलिस कस्टडी में अतीक अहमद को अब जेल भेजने की तैयारी चल रही है|

शियाट्स एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, नैनी में बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद और 50 अन्य लोगों के तोडफ़ोड़ करने के साथ ही अराजकता फैलाने के मामले में कल इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई हुई|

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर एसपी यमुनापार अदालत में हाजिर हुए. जहां कोर्ट ने अब तक अतीक अहमद की गिरफ्तारी न किए जाने पर सख्त नाराजगी जतायी है। इलाहाबाद हाईकोर्ट के कड़े रुख के मश्किलें बढ़ती देख बाहुबली अतीक अहमद ने आज सरेंडर कर दिया|

हाईकोर्ट ने एसी यमुनापार से अतीक अहमद की क्रिमिनल हिस्ट्री तलब की है। इसके साथ ही मामले की चल रही विवेचना की केस डायरी भी हाईकोर्ट ने मांगी है। मामले की अगली सुनवाई अब 13 फरवरी को इलाहाबाद हाईकोर्ट में होगी। इस मामले में हाईकोर्ट ने बेहद सख्त रुख अपनाते हुए निचली अदालत को सरेंडर अर्जी पर जमानत न देने का भी आदेश दिया है|

गौरतलब है कि याचिकाकर्ता राम किशुन सिंह ने याचिका दाखिल कर अपनी सुरक्षा और मुख्य आरोपी अतीक अहमद की गिरफ्तारी की मांग की थी। मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस डी बी भोसले और जस्टिस यशवन्त वर्मा की डिवीजन बेंच में हुई|

गौरतलब है 14 दिसम्बर 2016 को शियाट्स से निष्कासित दो छात्रों का निलम्बन वापस कराने गए बाहुबली पू्र्व सांसद अतीक अहमद ने शिक्षकों और कर्मचारियों से मारपीट की थी। वहीं मारपीट की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गयी थी|