मुलायम सिंह यादव आज बरेली में

79
SHARE

चुनावी गठबंधन पर ‘इकरार-इन्कार’ के जुमलों के बीच समाजवादी पार्टी आज बरेली में दूसरी रैली करेगी। इस रैली में मुलायम सिंह यादव गठबंधन पर नजरिया साफ कर सकते हैं। इस रैली की सपा के मिशन-2017 की कामयाबी की दिशा में अहम भूमिका होगी। विधानसभा चुनाव की डुगडुगी बजने का समय धीरे-धीरे करीब है। सपा के मुख्य प्रतिद्वंद्वी दलों ने प्रचार अभियान छोड़ रखा है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव विकास योजनाओं के लोकार्पण के बहाने और भविष्य का ख्वाब दिखाकर विरोधियों पर बढ़त हासिल करने के प्रयास में हैं। पर, पार्टी की यह दूसरी रैली है जो बरेली में होगी|

पहली रैली 23 नवंबर को गाजीपुर में हुई थी, जिसमें गठबंधन को लेकर बना असमंजस खत्म होने के आसार थे, मगर मुलायम ने इस मुद्दे पर जनता की नब्ज भी नहीं टटोली। पहली और दूसरी रैली के बीच एक पखवारे के अंतराल में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दिल्ली, फीरोजाबाद और लखनऊ में तीन बार कहा कि कांग्रेस से गठबंधन होता है तो तीन सौ सीटें जीतेंगे। मगर, दोनों दलों के प्रयासों का खुलासा नहीं हुआ। ऐसे में कार्यकर्ताओं में गठबंधन होने या न होने को लेकर असमंजस बना है। टिकट बंटवारे पर परिवार के तीन सदस्यों के दावे उन्हें और बेचैन किये है|