मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री योगी पर दिया बयान, देखिये क्या कहा पूर्व सपा प्रमुख ने

13
SHARE

समाजवादी पार्टी के संस्थापक व संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ दी है। उन्होंने कहा है कि योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बने अभी ज्यादा वक्त नहीं हुआ है, इसलिए उनके फैसलों की अभी समीक्षा नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि योगी के कामों के बारे में मैं छह माह बाद कुछ बोलूंगा। मुलायम सिंह यादव शनिवार को इटावा में थे।

यहां पत्रकारों से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा है कि उनके परिवार में कोई कलह नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारा परिवार एक है और आगे भी रहेगा। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की हार का ठीकरा मीडिया और जनता के सिर फोड़ा। उन्होंने कहा कि मीडिया ने विधानसभा चुनाव के वक्त सिर्फ मेरे परिवार के कलह को ही परोसा, जबकि जनता बहकावे में आकर भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में चली गई। वहीं, एक सवाल पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के फैसलों पर अभी कुछ नहीं बोलूंगा। अगले छह माह बाद उनके फैसलों की समीक्षा कर बताऊंगा कि उन्होंने क्या सही किया और क्या गलत।
मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव सरकार के काम की तारीफ करते हुए कहा कि इतना अच्छा काम करने के बावजूद जनता ने समाजवादी पार्टी को चुनाव में हरा दिया। जनता बहकावे में आ गई और भाजपा के साथ हो गई। उन्होंने मीडिया की भी आलोचना करते हुए कहा कि उसने सपा की अच्छे कामों को नहीं दिखाया, जबकि बुराई को महत्व दिया। मीडिया ने पूरी तरह परिवार की लड़ाई को ही प्रमुखता दी। चुनाव में हार के बाद पार्टी में नेतृत्व परिवर्तन के लिए उठ रहे आवाज को लेकर मुलायम ने कहा कि उनके लिए पार्टी अध्यक्ष का पद कोई मायने नहीं रखता। समाजवाद के प्रणेता राम मनोहर लोहिया और जयप्रकाश नारायण के पास भी आखिर कौन सा पद था। एक प्रश्च के जवाब में उन्होंने कहा कि उनका जो भी अगला कदम होगा, वह जनहित में होगा। मालूम हो कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इस बार सपा को महज 47 सीटें मिली हैं।
छह माह बाद योगी सरकार के काम पर बोलूंगा
सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने एक प्रश्र के जवाब में कहा कि अभी सूबे में भाजपा की नई सरकार बनी है। अभी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामों के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के कामों के बारे में छह माह बाद ही कुछ कहा जा सकता है।