अखिलेश यादव को एमपी में लगा झटका, घोषित उम्मीदवार पीछे हटा, कांग्रेस की तारीफ में जुटा

133
SHARE

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल बज चुका है, सभी दल यहां पर अपनी तैयारियों में लगे हुए हैं, इसी बीच मध्य प्रदेश में भी किस्मत आजमाने की कोशिश में लगे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष को कदम बढ़ाते ही बड़ा झटका लगा है। अखिलेश यादव ने एमपी में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करते हुए 6 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार दिए थे लेकिन इन घोषित उम्मीदवारों में से एक खुद ही पीछे हट गया है।

अखिलेश यादव ने शनिवार को ही मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 6 नामों की घोषणा की थी। इसमें एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चुनाव क्षेत्र बुधनी से अर्जुन आर्य को समाजवादी पार्टी प्रत्याशी बनाया गया था लेकिन रविवार को अर्जुन आर्य ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है।

अर्जुन ने रविवार को एक वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उन्हें बुधनी से टिकट दिया था, जिसे वह ससम्मान लौटा रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस में जाने के साफ संकेत दिए और कहा कि मध्य प्रदेश में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस जैसे सशक्त हाथ की जरूरत है और कांग्रेस नेतृत्व उन्हें शिवराज सिंह के खिलाफ जहां से भी चुनाव लड़ने कहेगा वो लड़ेंगे।


बताते चलें कि अर्जुन आर्य को पिछले दिनों सीहोर में किसान आंदोलन के बाद भोपाल की सेंट्रल जेल में बंद कर दिया था। बाद में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह सेंट्रल जेल में अर्जुन आर्य से मिलने गए थे। अर्जुन, दिल्ली विश्वद्यालय से पढ़ाई करके बुधनी लौटे हैं और आदिवासियों में उनकी काफी अच्छी छवि है। माना जा रहा है कि दिग्विजय सिंह ने ही उनकी जमानत कराई थी और अब वह कांग्रेस से प्रत्याशी बन सकते हैं।