मोदी के नेतृत्त्व में ही NDA लड़ेगी 2019 का चुनाव : NDA की मीटिंग में हुआ फैसला

21
SHARE

एनडीए बैठक शुरू होने पर अंदाजा लगाया जा रहा था कि बैठक के केंद्र में राष्ट्रपति चुनाव होंगे, लेकिन बैठक का सिर्फ एक मुद्दा था और वो था 2019 चुनावों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन. एनडीए पूरी ताकत से मोदी के पीछे आ खड़ा हुआ है.

सबका साथ सबका विकास की थीम के साथ एनडीए की बैठक में सहयोगियों की अगवानी खुद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कर रहे थे. बैठक से पहले एक बैठक और हुई. ये बैठक उद्धव ठाकरे और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बीच हुई. दोनों के बीच अलग कमरे में करीब बीस मिनट बैठक हुई.

सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के गठबंधन में मतभेदों को दूर करने पर चर्चा हुई. एनडीए बैठक में इस बार 33 दल शामिल हुए. ये एनडीए की अब तक की सबसे बड़ी  बैठक है.

मोदी ने कहा 

पिछले तीन साल में गरीबों तक पैठ बढ़ी है. अब गरीबों की योजनाओं को आखिरी नागरिक तक पहुंचाने के लिए और मेहनत की जरूरत है. हमारी ज़िम्मेदारी है कि देश में एक साथ चुनाव हो इसके लिए चर्चा और तेज़ करने की ज़रुरत है. मोदी ने एनडीए के विस्तार पर ज़ोर दिया और कहा कि एनडीए पहले से बड़ा हो गया है इसके विस्तार की और भी सम्भावनाओं को तलाशा जाना चाहिए.