मोदी आज राज्यसभा में मौजूद रहेंगे, संसद परिसर में TMC का प्रदर्शन

12
SHARE
नोटबंदी मुद्दे पर विपक्ष और सरकार के बीच गतिरोध जारी है। गुरुवार को एक बार फिर लोकसभा-राज्यसभा में हंगामे के आसार हैं। संसद परिसर में टीएमसी ने प्रदर्शन किया। इस बीच, सरकार भी कांग्रेस को घेरने में जुट गई है। संसदीय कार्यमंत्री ने वेंकैया नायडू ने कहा, ”अगस्ता वेस्टलैंड डील मामले में हुए करप्शन का मामला हम संसद में उठाएंगे।” बता दें कि इस मामले में पिछले दिनों पूर्व एयरफोर्स चीफ त्यागी को अरेस्ट किया है। इधर, नरेंद्र मोदी गुरुवार को राज्यसभा में मौजूद रहेंगे|
राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी के ऊपर पर्सनल करप्शन का आरोप लगाया और कहा कि उन्हें सदन में बोलने नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में आज भी संसद में हंगामा हो सकता है। इस बीच, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह ने कहा, ”राहुल कुछ भी बोलें, उनको इस देश में कोई सीरियस नहीं लेता।”
बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राहुल गांधी ने कहा, ”मेरे पास मोदी के पर्सनल करप्शन की इन्फॉर्मेशन है। इसे मैं लोकसभा में बताना चाहता हूं। लेकिन मुझे बोलने नहीं दिया जा रहा।मोदी को डर है कि अगर मैं लोकसभा में बोलूंगा तो उनका गुब्बारा फूट जाएगा।”
राहुल का यह कमेंट उनके उस बयान के 6 दिन बाद आया जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर वे संसद में बोले तो भूकंप आ जाएगा।
कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट के बयान पर सरकार ने कहा कि अगर राहुल के पास मोदी के खिलाफ कोई जानकारी है तो संसद तो 20 दिन से चल रही है, वे चुप क्यों रहे?
16 नवंबर को पार्लियामेंट का विंटर सेशन शुरू हुआ था। यह 16 दिसंबर तक चलेगा।
पार्लियामेंट के विंटर सेशन में नोटबंदी पर हंगामे की वजह से जरूरी काम काफी कम हुआ है।पीआरएस लेजिस्लेटिव रिसर्च के मुताबिक 16 नवंबर से 9 दिसंबर के बीच लोकसभा में 15% तो राज्यसभा में 19% ही प्रोडक्टिविटी रही है। यानी एवरेज 17% कामकाज हुआ। यह मोदी सरकार के ढाई साल के कार्यकाल में लोकसभा की सबसे कम प्रोडक्टिविटी है|