उत्तर प्रदेश में आज मीट व्यापारियों का हड़ताल , नॉनवेज रेस्टोरेंट भी बंद , पढ़िए पूरा मामला

24
SHARE

उत्तर प्रदेश में बूचड़खानों पर हो रही कार्रवाई का विरोध करते हुए मीट विक्रेताओं ने आज से हड़ताल पर जाने का एलान किया है. मटन और चिकन विक्रेताओं, मछली कारोबारियों ने आज से बेमीयादी हड़ताल करने का एलान किया है.

यूपी में बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई के विरोध में मीट विक्रेता अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. इनमें मटन, चिकन, और मछली बेचने वाले व्यापारी शामिल हैं. हड़ताल की वजह से सबसे ज्यादा परेशानी उन होटलों और रेस्टोरेंट्स को हो रही है, जिसमें नॉनवेज परोसा जाता है. सप्लाई नहीं आने की वजह से कई होटल और रेस्त्रां बंद हो चुके हैं.

हालांकि यूपी सरकार की ओर से साफ-साफ कहा गया है कि कार्रवाई सिर्फ उन बूचड़खानों के खिलाफ हो रही है जो अवैध हैं. मीट बेचने वाले उन दुकानों को भी बंद कराया जा रहा है जिनके पास लाइसेंस नहीं हैं. जिनके पास लाइसेंस है उन्हें अपना काम रोकने की जरूरत नहीं है.

उत्तर प्रदेश में 40 वैध और करीब 316 अवैध बूचड़खाने हैं. जिन बूचड़खानों के पास विभागों के लाइसेंस  पूरे नहीं होते वो अवैध माने जाते हैं.  बूचड़खाने बंद होने से सरकार को सलाना 11 हजार 350 करोड़ का नुकसान होगा.  एनजीटी ने दो साल पहले बूचड़खानों पर बैन लगाया था.