EVM मुद्दे पर मायावती खटखटाएंगी कोर्ट का दरवाजा

19
SHARE

ईवीएम मुद्दे पर मायावती कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकती हैं। पत्रकारों से बातचीत में मायावती ने कहा कि 2-3 दिनों के अंदर वो कोर्ट जा सकती हैं। गौरतलब है कि यूपी चुनाव परिणाम के बाद सबसे पहले मायावती ने ईवीएम में छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। बाद में आम आदमी पार्टी ने भी चुनावों में हार का ठीकरा ईवीएम के सिर फोड़ा।

जैसे ही यूपी के नतीजे सामने आए, मायावती ने कहा कि ईवीएम में छेड़छाड़ की गई है। उसके बाद अखिलेश यादव ने कहा था कि मायवाती के आरोपों में सच्चाई है, या नहीं, इसे कुछ दिनों के बाद बताएंगे। वहीं उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने भी छेड़छाड़ के आरोप लगाए थे।

हालांकि इन आरोपों को चुनाव आयोग ने सिरे से नकार दिया था। चुनाव आयोग ने साफ शब्दों में कहा था कि ईवीएम में किसी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं की जा सकती है। ईवीएम और चुनावों में शुचिता रखने के लिए टेक्निकल और प्रशासनिक स्तर पर पूरी तरह से सावधानी रखी जाती है।

चुनाव आयोग ने कहा था कि जिन राजनितिक दलों या फिर व्यक्तियों  के पास ऐसा कोई सबूत हैं, जिससे साबित होता हो कि ईवीएम में छेड़छाड़ हो सकती है, तो वो इनको लेकर के आये। आयोग इन सबूतों को गंभीरतापूर्वक देखने के बाद ही किसी तरह का कोई निर्णय लेगा।