मथुरा के डेढ़ दर्जन अफसरों पर 25-25 हजार का जुर्माना, लोगों को सूचनाएं न देने का आरोप

27
SHARE

राज्य सूचना आयोग ने मथुरा जनपद के 15 अफसरों पर सूचनाएं उपलब्ध न कराने पर 25-25 हजार का जुर्माना लगाया है. जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्रा को इन सभी से जुर्माने की राशि उनके वेतन से काटकर जमा कराने के निर्देश दिए गए हैं. अपर जिलाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) एवं जिले के प्रभारी जन सूचनाधिकारी रमेश चंद्र ने बताया, ‘जिले के अधिकांश अफसर जनसूचना अधिनियम’ 2005 के तहत मांगी जा रही सूचनाएं लोगों को उपलब्ध नहीं करा रहे हैं.

इसमें अनेक अफसर ऐसे भी हैं, जो सही सूचनाएं न देते हुए आधी-अधूरी जानकारी दे रहे हैं.’ उन्होंने बताया, ‘तहसीलदार, मांट और बेसिक शिक्षा विभाग के वित्त एवं लेखाधिकारी ने तो पूर्व तैनाती जनपदों में भी सूचनाएं उपलब्ध नहीं कराई हैं. ऐसे में जनसूचना के लिए लोगों को राज्य सूचना आयुक्त की शरण लेनी पड़ रही है.’

जन सूचनाधिकारी ने कहा, ‘इसलिए इन अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को बाध्य होना पड़ा है. सभी पर 25-25 हजार रुपए का अधिकतम जुर्माना लगाया गया है. इनमें भी तहसीलदार (मांट) व पशु चिकित्सा विवि के जन सूचनाधिकारी ऐसे हैं जिन पर कुल 50-50 हजार का जुर्माना लगाया जा चुका है.’