माल्या को 4 दिसंबर तक जमानत मिली, स्टेडियम के बाहर लोगो ने कहा था ‘चोर’

33
SHARE

भारत के बैंकों के कर्जदार और भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के मामले को लेकर लंदन की कोर्ट में चल रही सुनवाई खत्म हो गई। कोर्ट ने उन्हें 4 दिसबंर तक जमानत दी है। कोर्ट में पेशी पर जाने से पहले विजय माल्या ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन पर लगे सारे आरोप निराधार हैं, ”मुझे इनके बारे में कुछ नहीं कहना है। मैंने ‌किसी कोर्ट की अवमानना नहीं की। यह मेरी कानून जिम्मेदारी है मैं कानून का सम्मान करता हूं। मेरे पास अपने अाप को निर्दोष साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत हैं।” विजय माल्या के बेटे सिद्घार्थ माल्या भी लंदन कोर्ट पहुंचे।

इसके पहले उद्योगपति विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार होने के कुछ ही घंटों के भीतर जमानत पर छोड़ दिए गए थेे। जमानत के लिए हाईप्रोफाईल कारोबारी माल्या को आठ लाख डॉलर (करीब 5 करोड़ रुपये) चुकाने पड़े थे। साथ ही उन्हें अपना पासपोर्ट सौंपने का आदेश भी दिया गया था। दिल्ली में अधिकारियों के प्रत्यर्पण आवेदन पर वो कोर्ट में पेश होने आए थे।

माल्या को प्रत्यर्पण वॉरंट के आधार पर गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि शराब कारोबारी विजय माल्या पर भारतीय बैंकों से 9 हजार करोड़ से अधिक का कर्ज लेकर देश छोड़कर भाग जाने का आरोप है। इन दिनों लंदन में चल रही चैंपियन ट्राफी में माल्या मैच देखते हुए दिखाई दे रहे हैं, जिसको लेकर विपक्षी दल लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं।

लंदन में मैच देखने के दौरान भारतीय मूल के दर्शकों के चोर-चोर कहने के सवाल पर विजय माल्या ने कहा कि दो पियकक्ड़ों ने उन्हें चोर कहकर बुलाया। बता दें कि चैंपियंस ट्रॉफी में भारत और दक्षिण अफ्रीका के मैच के दौरान स्टेडियम के बाहर कुछ दर्शकों ने माल्या को चोर-चोर कहते हुए हूंटिंग की थी।