शादी की तीसरी सालगिरह पर भेजा उपहार मेजर के शहीद होने के बाद घर आया

7
SHARE

शादी की तीसरी सालगिरह पर भेजा उपहार मेजर सतीश दहिया के शहीद होने के बाद घर आया|अपनी शादी की तीसरी सालगिरह के मौके पर मेजर सतीश दहिया ने पत्‍नी सुजाता को उपहार भेजे थे| लेकिन सैकड़ों किमी दूर जब तक केक, फूलों और कैंडल्‍स की शक्‍ल में वे उपहार सुजाता तक पहुंचते तब तक जम्‍मू-कश्‍मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों के खिलाफ लड़ते हुए मेजर सतीश दहिया शहीद हो गए| सेना में मेजर 31 वर्षीय सतीश दहिया मंगलवार को शहीद हुए| उनका पार्थिव शरीर गुरुवार को उनके पैतृक गांव पहुंचा| उनकी दो साल की बेटी प्रियाशा ने अपने चाचाओं की मदद से उनको मुखाग्नि दी|

जम्‍मू कश्मीर से खबर आई थी कि उनके पति मेजर सतीश दहिया एक एनकाउंटर में शहीद हो गए हैं। पति की मौत की खबर सुनकर अभी उसे अपने कानों पर यकीन भी नहीं हो रही थी कि दरवाजे पर हुई दस्तक ने पूरे परिवार का ध्यान अपनी ओर खींच लिया। लगा शायद इस गम में कोई और आंसू पोंछने आया है, लेकिन दरवाजे पर खड़े व्यक्ति ने परिवार वालों के हाथों में फूलों, चॉकलेट और ग्रिटिंग कार्ड का एक बॉक्स पकड़ाया तो हर कोई हैरत में रह गया। हालांकि कार्ड पर पड़ा नाम देखकर एक बार फिर परिवार के हर व्यक्ति की आंखों में आंसु बह आए|

ये वो तोहफा था जिसे मेजर दहिया ने अपनी शादी की तीसरी सालगिरह पर पत्नी सुजाता को भेजा था। ग्रिटिंग कार्ड में उनका संदेश भी था। जिसमें लिखा था “मैं तुम्हे बहुत प्यार करता हूं, तुम मेरी प्रेरणा हो”|