सपाइयों ने मिठाई खिलाई, कहा हमारी देन,अखिलेश ने कहा, इंजन पहले चल दिया ‌था, डिब्बे तो पीछे आने ही थे

77
SHARE

आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ट्रांसपोर्ट नगर डिपो से लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी दिखाएंगे। मेट्रो में पहले चरण का काम पूरा करने वाली टीम भी तमाम वीआइपी के साथ ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक का करीब साढ़े आठ किलोमीटर का सफर तय करेगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को ट्रांसपोर्ट नगर स्टेशन से दोपहर 01:12 बजे हरी झंडी दिखाकर बहुप्रतीक्षित मेट्रो का शुभारंभ करेंगे।

ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के बाद गृहमंत्री व मुख्यमंत्री करीब तीस मिनट मेट्रो में सफर करेंगे। चारबाग तक मेट्रो जाएगी और वापस ट्रांसपोर्ट नगर आ जाएगी। पूरे सफर में सीएम, गृहमंत्री और कोई भी वीआइपी स्टेशन पर नहीं उतरेगा। मेट्रो के पहले कोच में सीएम, गृहमंत्री, दोनों डिप्टी सीएम व कैबिनेट मंत्री व एलएमआरसी के एमडी व निदेशक रहेंगे। वहीं सीएम की मेट्रो चलाने के लिए दो महिला व दो पुरुष ट्रेन ऑपरेटर नियुक्त हैं। मुख्य कार्यक्रम ट्रांसपोर्ट नगर स्टेशन के पीछे मैदान में 12 बजे शुरू होगा।

परियोजना के पहले चरण के तहत मेट्रो ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग के बीच साढ़े आठ किलोमीटर चलाई जा रही है।यह सेवा सुबह छह बजे से रात दस बजे तक जनता के लिए उपलब्ध होगी। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले पिछले साल दिसंबर में लखनऊ मेट्रो के ट्रायल रन को हरी झंडी दिखायी थी। कार्यक्रम में केंद्रीस गृह मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह की उपस्थिति भाजपा की ओर से संकेत होगा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने परियोजना के लिए अधिकांश धन मुहैया कराया है।

लखनऊ मेट्रो के इनॉगरेशन से पहले सोमवार को सपा कार्यकर्ताओं ने शहर के मेट्रो स्टेशनों पर जाकर पूर्व सीएम अखिलेश यादव की जय-जयकार की और लखनऊवासियों को मेट्रो की सौगात देने पर धन्यवाद दिया। उन्होंने इनॉगरेशन की खुशी जाहिर करते हुए एक दूसरे को लड्डू भी खिलाए। वो काफी देर तक मेट्रो के अलग-अलग स्टेशनों पर रहे।

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने इनॉगरेशन की तस्वीरें ट्विटर पर डाली और लिखा कि इंजन तो पहले ही चल दिया ‌था… डिब्बे तो पीछे आने ही थे