अखिलेश सरकार के मंत्री राम करन आर्य को आजीवन कारावास

21
SHARE

अखिलेश यादव की सरकार के मंत्री राम करन आर्य हमेशा अपने विवादित बयानों से चर्चा में रहे है, मगर इस बार हत्या के एक मामले में मंत्री राम करन आर्य को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। उनके खिलाफ शम्भू पाल की हत्या के मामले में साजिश रचने के मामला में ये सजा सुनाई गयी है|

बस्ती के निवासी तथा अखिलेश यादव सरकार में आबकारी एवं खेलकूद राज्यमंत्री रहे रामकरन आर्य को हत्या के मामले मे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। इनके खिलाफ डुमरियागंज से भाजपा के सांसद जगदम्बिका पाल के चचेरे भाई की शम्भू पाल की हत्या के मामले में साजिश रचने का मामला दर्ज किया गया था।

यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन पर अखिलेश यादव सरकार में खेल व युवा कल्याण के साथ आबकारी मंत्री रहे राम करन आर्य भाजपा को बड़ा शैतान तथा कांग्रेस को छोटा शैतान बताया था। राम करन आर्य, उत्तर प्रदेश की 16वीं विधानसभा सभा में विधायक और सपा सरकार में मंत्री थे। 2012 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की बस्ती के महादेवा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता था।

रामकरन आर्य ने एक जनसभा में कहा कि आने वाले चुनावों में जो हमें वोट नहीं देगा वो हमारा सगा नहीं है। उन्होंने कहा था, पोलिंग के दिन जो भी कार्यकर्ता बूथ पर खड़ा होकर मुलायम और अखिलेश को वोट देगा, वहीं उनका सगा है। बेटी देना और बेटी लेना कोई रिश्तेदारी नहीं है।