जानिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कई विवादित बयान

174
SHARE

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम कई विवादित बयान दर्ज हैं. दिलचस्प बात यह है कि उनके इन्हीं विवादित बयानों के चलते  उनका राजनीतिक कद लगातार बढ़ा है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव के विकास वाले बयानों को सांप्रदायिकता से जोड़ दिया था. उन्होंने अपने लगभग सभी चुनावी भाषणों में आरोप लगाया था कि अखिलेश सरकार की योजनाओं का लाभ ज्यादातर मुस्लिमों को दिया जाता है. आइए आदित्यनाथ के उन बयानों पर नजर डालें जो विवादित कहे गए और विपक्षी पार्टियों ने उसका जमकर विरोध किया.

1. लव जेहाद: अगस्त 2014 में योगी आदित्यनाथ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वह अपने समर्थकों से कहते सुनाई दे रहे थे, ‘हमने फैसला किया है कि अगर वे एक हिंदू लड़की का धर्म परिवर्तन करवाते हैं तो हम 100 मुस्लिम लड़कियों का धर्म परिवर्तन करवाएंगे.’ इसपर योगी ने कहा था कि वे इस वीडियो पर कोई सफाई नहीं देंगे.

2. मस्जिदों में गौरी-गणेश की मूर्ति स्थापित करवा देंगे: फरवरी 2015 में योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘अगर उन्हें मौका मिलेगा तो वे देश के सभी मस्जिदों के अंदर गौरी-गणेश की मूर्ति बनवा देंगे.

3. हिंदुस्तान में हम हिंदू बना देंगे: साल 2015 में ही योगी आदित्यनाथ ने कहा था ‘आर्यावर्त ने आर्य बनाए, हिंदुस्तान में हम हिंदू बना देंगे. हम  पूरी दुनिया में भगवा झंडा फहरा देंगे.’

4. गैर हिंदूओं के भारत में प्रवेश रोक दूंगा: योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘मक्का में गैर मुसलमानों को जाने की इजाजत नहीं है, वेटिकन सिटी में गैर ईसाइयों को प्रवेश नहीं मिलता तो भला हमारे यहां हर कोई कैसे आ सकता है.

5. दादरी कांड पर योगी के कड़वे बोल: चर्चित दादरी कांड पर योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘यूपी कैबिनेट के मंत्री (आजम खान) ने जिस तरह संयुक्त राष्ट्र जाने की बात कही है, उन्हें तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए. आज ही मैंने पढ़ा कि अखलाख पाकिस्तान गया था और उसके बाद से उनकी गतिविधियां बदल गई थीं. क्या सरकार ने ये जानने की कभी कोशिश की कि ये व्यक्ति पाकिस्तान क्यों गया था. आज उसे महिमामंडित किया जा रहा है.’

6. योग के विरोधी भारत छोड़े: योगी आदित्‍यनाथ ने कहा था, ‘जो लोग योग का विरोध कर रहे हैं उन्‍हें भारत छोड़ देना चाहिए.’ उन्होंने यहां तक कहा कि लोग सूर्य नमस्‍कार को नहीं मानते उन्‍हें समुद्र में डूब जाना चाहिए.

7. मुसलमानों के जन्मदर पर योगी के कमेंट: अगस्त 2015 में योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘मुसलमानों का प्रजनन दर काफी अधिक है, जिससे जनसंख्या असंतुलन हो सकता है.

8. हर की पौड़ी पर गैर हिंदू बैन हों: अप्रैल 2015 में आदित्यनाथ ने कहा था कि हरिद्वार में विश्वप्रसिद्ध तीर्थस्थल ‘हर की पौड़ी’ पर गैर हिंदुओं का प्रवेश बंद होना चाहिए.

9. शाहरुख और हाफिज सईद में फर्क नहीं:  अभिनेता शाहरुख खान ने जब असहिष्णुता पर बयान दिया तो आदित्यनाथ ने उनकी तुलना पाकिस्तान में बैठे आतंकी हाफिज सईद से कर दी थी. योगी आदित्यनाथ ने शाहरुख की तुलना हाफिज सईद से करते हुए कहा कि हाफिज सईद की जुवान और शाहरुख की जुवान में कोई फर्क नहीं है. उन्होंने कहा कि देश के वातावरण को खराब करने के लिए एक साजिश रची जा रही है, जिसमें अब शाहरुख भी सम्मिलित हो गए हैं.