उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया लोक निर्माण विभाग के छह महीने का काम

40
SHARE

आज उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के छह महीने के काम से अवगत कराया। केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि विभाग दिन पर दिन प्रगति के पथ पर है। अब जरा भी लापरवाही व भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं होगा। हमने लापरवाही बरतने वाले 11 कर्मियों को निलंबित किया। इसके साथ 37 के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाई भी की गई।

प्रदेश में गड्ढा मुक्ति अभियान में लापरवाही के बाद एक अधिशासी अभियंता के खिलाफ कार्रवाई की गई जबकि 88 कर्मचारियों को चेतावनी दी गई। इस दौरान छह बड़े ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट में डाला गया जबकि 19 को ब्लैक लिस्ट में डालने का नोटिस दिया गया। डिप्टी सीएम ने आज अपने विभाग का लेखा-जोखा पेश किया। लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम, निर्माण निगम, मनोरंजन कर, खाद्य प्रसंस्करण, सार्वजनिक उपक्रम विभाग को छह महीने में कई उपलब्धियां मिली हैं।

उन्होंने कहा कि छह महीने में प्रदेश में 83500 किलोमीटर सड़कें गड्ड मुक्त की गईं। गद्धमुक्ति अभियान में कुल 1 लाख 21 हजार किलोमीटर से 83500 किलोमीटर सड़कें गड्ड मुक्त हुई। इसके साथ ही भ्रष्टाचार मुक्त विकास के लिए ई टेंडरिंग लागू किया गया।

केशव प्रसाद ने बताया कि केंद्र सरकार से झांसी से जालौन-उरई होते हुए आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे तक 320 किमी फोर लेन की सहमति मिली है। साथ झांसी-चित्रकूट-इलाहाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग को 380 किमी को चार लेन की मंजूरी भी मिली है। गोवर्धन के चारों तरफ परिक्रमा मार्ग चार लेन का होगा। इसपर 4695 करोड़ रु की लागत आयेगी। गोवर्धन विकास के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण शुरू कराया गया है। लखनऊ में सात एलिवेटेड रोड के निर्माण को मंजूरी दी गई है। हमने छह महीने के अंदर ही 760 करोड़ की 61 परियोजनाओं को पूरा कर लिया है। इनके साथ ही हमने पिछली सरकार के अधूरे कामों को पूरा कराया है।