बाहुबलियों के आए खराब दिन, यूपी के जेलों में नहीं लगा पाएंगे सेंध: जेल मंत्री जयकुमार

71
SHARE

बार्डर पर तनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश की सभी जेलों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। कोई भी आतंकी मध्य प्रदेश व पंजाब जैसी घटनाओं को अंजाम नहीं दे सकता। इसके साथ ही उच्च तकनीक का जैमर भी प्रमुख जेलों में लगाया जा रहा है, जिससे कोई भी बाहुबली व अन्य कैदी बाहर से संपर्क नहीं कर पाएगा। पिछली सरकारों के कार्यकाल के दौरान जेल अपराधियों के लिए एक शेप जगह होती थी, लेकिन योगी सरकार के बाद उन्हें अब इसका एहसास हो गया है कि जेल- जेल ही होती है। यह बात कानपुर जेल पहुंचे कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह ने मीडिया से मुखातिब होते कही।जेल मंत्री ने कहा कि देश व प्रदेश में जनता के अच्छे दिन चल रहे हैंए वहीं बाहुबलियों और अपराधियों के बुरे दिन आ गए हैं। पहले अपराधी जेल से बैठकर अपराध को अराम से अंजाम देते थे, जिस पर योगी सरकार ने अहम कदम उठाए हैं। नामी क्रिमिनल व बाहुबलियों को उनके गृह जनपद की जेलों से हटा कर दूसरी जगह शिफ्ट किया गया है। कार्यक्रम के बाद मंत्री ने अस्पताल व महिला बैरकों का भी निरीक्षण किया। महिला बंदियों से समस्याओं को लेकर चर्चा भी की। इस दौरान पूर्व दस्यू सुंदरी कुसूमा नाइन ने मंत्री से जेल में महिलाओं बंदियों के रोजगार की व्यवस्था कराए जाने की मांग की, जिस पर मंत्री ने जल्द इस पर काम करने का उन्हें आश्वासन दिया।

मंत्री ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि जेलों की गौशालाओं से जैविक खाद बनाई जाएगी। इसी जैविक खाद का प्रयोग सब्जी उगाने में किया जाएगा, जिससे बंदियों को उच्च गुणवत्ता युक्त सब्जी मिल सके। मंत्री जयसिंह ने कहा कि जेल मैनुअल के मुताबिक बंदियों को आने वाली समस्याओं का बराबर निरीक्षण किया जाएगा और हर हाल में उनका समाधान किया जाएगा। मंत्री ने बताया कि कई बार ऐसा देखा गया कि गंभीर बीमारी के चलते बंदियों को अस्पताल में जाने में दिक्कत होती है और जिला प्रशासन समय से एम्बुलेंस नहीं भेज पाता, जिसके चलते मंत्रालय जेलों में विशेष एम्बुलेंस की व्यवस्था करने जा रही है। जिससे किसी भी बंदी की तबियत खराब होने पर उसे तत्काल अस्पताल पहुंचाया जा सकेगा।