साइरस मिस्त्री की जगह इशात हुसैन होंगे TCS के नए चेयरमैन

8
SHARE

इशात हुसैन को टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के चेयरमैन के तौर पर नियुक्त किया गया है।कंपनी ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को जारी की गई अपनी विज्ञप्ति में कहा कि उसे टाटा संस से चिट्ठी मिली है, जिसमें इशात हुसैन को साइरस मिस्त्री की जगह कंपनी के निदेशक मंडल का अध्यक्ष नामित किया गया है

कौन हैं इशात हुसैन?

इशात हुसैन1 जुलाई 1999 को टाटा संस के बोर्ड में शामिल हुए थे। टाटा संस के बोर्ड में आने से पहले वे टाटा स्टील में लगभग 10 साल तक वरिष्ठ उपाध्यक्ष और कार्यकारी निदेशक वित्त के रूप में कार्यरत थे ।उन्होंने टाटा स्टील, टाटा इंडस्ट्रीज, टाटा टेलीसर्विसेज और टाइटन इंडस्ट्रीज लिमिटेड की कई टाटा कंपनियों के बोर्ड में कार्य किया है।इसके अलावा हुसैन भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड के प्राथमिक बाजार सलाहकार समिति (सेबी) के सदस्य भी हैं। अप्रैल 2005 में उन्हें व्यापार बोर्ड के सदस्य के तौर पर नियुक्त किया गया था। इसके बाद नवंबर 2006 में उन्हें बम्बई स्टॉक एक्सचेंज लिमिटेड के जनहित निदेशक के तौर पर नियुक्त किया गया था।

सायरस मिस्त्री के काम से खुश नहीं था बोर्ड

आपको बता दें कि रतन टाटा ने सायरस को अचानक इस पद से हटा दिया था । बताया जाता है कि बोर्ड सायरस मिस्त्री के काम से खुश नहीं था। इस मुद्दे पर टाटा संस के अंतरिम चेयरमैन रतन ने कहा था कि समूह की भावी सफलता के लिए साइरस का हटाया जाना बेहद जरूरी था। इससे पूर्व मिस्त्री ने अपने हमले तेज करते हुए आरोप लगाया कि डोकोमो से जुड़े विवाद को लेकर लिए गए हर फैसले में रतन भी शामिल थे।

साढ़े छह लाख कर्मचारियों को पत्र लिखकर दी गई थी जानकारी

रतन टाटा ने समूह के साढ़े छह लाख कर्मचारियों को पत्र लिखकर कहा है था कि टाटा संस के चेयरमैन पद से साइरस को हटाने का फैसला पूरी तरह सोच-समझकर लिया गया था। निदेशक बोर्ड के सदस्यों के लिए यह बेहद कठिन निर्णय था। बोर्ड को जब इस बात का पक्का भरोसा हो गया कि भविष्य में समूह की कामयाबी के लिए मिस्त्री को हटाना जरूरी है, तभी उसने यह कड़ा फैसला लिया।