शादी के बंधन में बंधने जा रही हैं इरोम शर्मिला

33
SHARE

मणिपुर में साल 2000 से लेकर 2016 तक सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम (आफ्सपा) के विरोध में लंबा संघर्ष करने वाली इरोम शर्मिला ने शादी के बंधन में बंधने का फैसला किया है. इरोम ने तमिलनाडु के हिल स्टेशन कोडइकनाल में उप रजिस्ट्रार राजेश के कार्यालय में डेसमंड कुटान्हो के साथ शादी का आवेदन दिया है. इरोम ने बीते साल 9 अगस्त को अपना अनशन खत्म किया था.

शर्मिला ने हिंदू विवाह अधिनियम के तहत आवेदन दायर किया है. उप रजिस्ट्रार ने उन्हें बताया कि यह एक अंतर-धार्मिक विवाह है, इसलिए उन्हें विशेष विवाह अधिनियम के तहत आवेदन दायर करना होगा.

उप रजिस्ट्रार राजेश ने कहा कि उनके आवेदन को नोटिस बोर्ड पर लगाया जाएगा और 30 दिनों के नोटिस की अवधि पूरी होने के बाद ही शादी होगी.

शर्मिला मणिपुर से कोडइकनाल शिफ्ट हो गई हैं और वह पिछले कुछ समय से अपने दोस्त के साथ ही रह रही हैं. शर्मिला ने बताया कि वह कोडइकनाल शांति की तलाश में आई थीं और उन्हें यह जगह पसंद आई. हालांकि, वह अपनी लड़ाई हार गई हैं लेकिन उन्होंने अपना मकसद नहीं छोड़ा है.