1 अप्रैल से महंगा हो सकता है बीमा करवाना

18
SHARE

1 अप्रैल 2017 से बैंकों के ट्रांजेक्शन और सेवाओं पर बढ़े हुए चार्ज तो हैं ही इसके साथ इंश्योरेंस जैसी सेवाओं के लिए आपको ज्यादा खर्च करना पड़ेगा.

जानिए कौन-से इंश्योंरेंस आने वाली 1 अप्रैल से महंगे होने जा रहे हैं.

  • इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी-इरडा (भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण) ने जनरल इंश्योरेंस कंपनियों को एजेंटों के कमीशन के संयोजन-कम्पोजिशन को दोबारा तय करने को मंजूरी दे दी है.
  • माना जा रहा है कि इससे 1 अप्रैल से कार, मोटरसाइकिल और हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम में बढ़त होने की पूरी उम्मीद है.
  • इसके बाद इंश्योरेंस के प्रीमियम की मौजूदा दरों में 5 फीसदी तक की घट-बढ़ हो सकती है.
  • 1 अप्रैल से लागू होने वाली थर्ड पार्टी मोटर बीमा की दरों में होने वाली बढ़ोतरी को इसमें शामिल नहीं माना जाए और ये 5 फीसदी की कटौती-बढ़ोतरी इसके अलावा होगी.
  • हालांकि बीमा रेगुलेटर इरडा ने बीमा प्रीमियम में 5 फीसदी की कटौती-बढ़ोतरी की लिमिट तय कर दी है जिसके चलते इससे ज्यादा के बदलाव नहीं होंगे.

इरडा ने कहा कि नए आने वाले रूल्स से बीमा एजेंटों के कमीशन और रिवॉर्ड दरों में जो बदलाव आएंगे उससे बीमा पर आने वाली कॉस्ट बढ़ेगी. इसे ही पूरा करने के लिए बीमा कंपनियां अपने प्रॉडेक्ट्स की कीमतों में बदलाव कर सकती हैं.
१ अप्रैल से बीमा एजेंटों के लिए रिवॉर्ड सिस्टम को भी शुरू हो जायेगा, जिससे इंश्योरेंस कंपनियों के खर्च बढ़ेंगे जिसे वो बीमा पॉलिसी के प्रीमियम के दाम बढ़ाकर पूरा करना चाहेंगी.