टीम इंडिया ने टॉस जीत कर लिया गेंदबाजी का फैसला

8
SHARE

तीन वनडे मैचों की सीरीज में अजेय बढत बनाने के बाद आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय क्रिकेट टीम आज इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और आखिरी एक वनडे मैच के जरिये ‘क्लीन स्वीप’ करके पांच महीने के भीतर होने वाली चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले अपने हौसले बुलंद करना चाहेगी.

इंग्लैंड की टीम अभी तक इस दौरे पर एक भी जीत दर्ज नहीं कर सकी है. टेस्ट सीरीज में सफाये के बाद दोनों वनडे मैच भी वह हार गई.

कटक में दूसरे वनडे में युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी की करिश्माई जोड़ी ने भारत को 15 रन से जीत दिलाई. ईयोन मोर्गन की टीम ने कटक में 382 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए और पुणे में 351 रन बनाने के बाद जीत की दहलीज के पास पहुंचकर घुटने टेके.

कटक वनडे में कुल 747 रन बने थे तीसरे वनडे में दोनों टीमों की गेंदबाजों की भूमिका अहम हो जायेगी. इंग्लैंड के लिये बेन स्टोक्स ने बल्ले से कमाल दिखाया लेकिन पुणे और कटक दोनों मैचों में काफी रन दिये. आदिल रशीद की जगह आये लियाम प्लंकेट ने 9.10 रन प्रति ओवर की औसत से रन दिये.