विश्व में भारत सबसे युवा देश, युवाओ को स्वावलंबी बनाने की दिशा में हमने बड़ा काम किया: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

12
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में विश्व युवा कौशल दिवस पर प्रदर्शनी का उद्घाटन पर कहा कि विश्व युवा कौशल दिवस की आप सभी युवाओं को बहुत बधाई। देश तथा प्रदेश में कौशल विकास का वृहद कार्यक्रम तय टारगेट से चल रहा है। विश्व में भारत सबसे युवा देश माना जाता है। यूपी में सबसे ज्यादा युवा है यहां की 22 करोड़ की जनसंख्या में। युवाओ को स्वावलंबी बनाने की दिशा देने में हमने बड़ा काम किया है। देश में प्रधानमंत्री मोदी ने कमान संभालते ही स्किल डेवलपमेंट के लिए कौशल विकास मंत्रालय का गठन किया।

 

युवाओं का कौशल तराशने को देश तथा प्रदेश में कौशल विकास केंद्र बनाए गए हैं। जहां इनकी प्रतिभा को निखारकर इनको मजबूत बनाया जाता है। स्वरोजगार की दिशा में कौशल विकास का कार्यक्रम बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका में है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले हम भ्रम की स्थिति में थे, इसकी वजह से युवा बेरोजगार थे। 2014 में मोदी सरकार ने एक विभाग बनाया जिससे सबको रोजगार देने के लिए ट्रेनिंग की व्यवस्था की।

योगी ने कहा कि हमारी सरकार 5 साल में 70 लाख युवाओं को ट्र‍ेनिंग देगी। उन्होंने कहा कि अब तक स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिंग के लिए 10 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। हम सबको रोजगार देने का प्रयास करेंगे, हमारा प्रतिद्वंदी चीन है। यूपी के युवाओं को चीन की आर्थिक स्थिति को टक्कर देनी है। सीएम योगी ने कहा कि पहले हम भ्रम की स्थिति में थे, इसकी वजह से युवा बेरोजगार थे। 2014 में मोदी सरकार ने एक विभाग बनाया जिससे सबको रोजगार देने के लिए ट्रेनिंग की व्यवस्था की।

उन्होंने कहा कि कौशल विकास केन्द्रों का गठन युवाओं को रोजगार देने के लिए किया गया है। प्रदेश में रोज 25 से 30 लोग सड़क दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। इसका कारण सहीं वाहन चालक न होना है। कौशल विकास में वाहन चालकों को निपुण किया जा रहा है। पीएम मोदी जी ने युवाओं को ट्रेंनिग देने के साथ मजबूत करने का काम किया है। इसी कारण से अब देश विश्व में भारत सबसे युवा देश है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज प्रदर्शनी समेत कई योजनाओं का भी शुभारम्भ किया। उनके साथ कौशल विकास मंत्री चेतन चौहान भी थे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने आइटीआइ के छह नए भवनों के साथ ही 10 संस्थानों में स्थापित सौर ऊर्जा संयंत्र का भी लोकार्पण किया। साथ ही 25 संस्थानों में लैब, 35 संस्थानों में स्मार्ट क्लास, 4 संस्थानों का जीर्णोद्धार और 17 संस्थानों में नई कार्यशाला का भी लोकार्पण किया। कौशल विकास प्रदर्शनी में सीएम ने रिमोट से चलने वाली वोट को भी देखा। आईटीआई बिजनौर के फिटर ट्रेड के युवाओं ने बनाया है।