भारत ने अटारी बॉर्डर पर फहराया सबसे ऊंचा तिरंगा, लाहौर से भी दिखने पर पाकिस्तान में नाराजगी

95
SHARE

रविवार को पाकिस्तान से महज कुछ ही दूरी पर स्थित भारत-पाक अटारी सीमा पर 360 फुट ऊंचे फ्लैगमास्ट का उद्घाटन किया गया. इसे देश का सबसे ऊंचा फ्लैगमास्ट कहा जा रहा है. पंजाब के मंत्री अनिल जोशी ने इस सबसे ऊंचे फ्लैगमास्ट पर देश का सबसे बड़ा तिरंगा फहराया. इसके निर्माण पर 3.50 करोड़ रुपये का खर्च आया है. यह पंजाब सरकार के अमृतसर सुधार न्यास प्राधिकरण की परियोजना थी. वहीं, बीएसएफ ने एलओसी के पास देश के सबसे ऊंचे तिरंगे को लेकर पाकिस्तान की आपत्तियों को खारिज कर दिया है. पाकिस्तान ने अटारी बॉर्डर के नजदीक फहराए गए 360 फीट ऊंचे तिरंगे पर ऐतराज जताया|

बता दें कि 55 टन के पोल पर फहराए गए इस तिरंगे की ऊंचाई 360 फुट है. 120 गुना 80 फुट के तिरंगे का वजन 100 किलो है. अब यह लिम्का बुक में दर्ज होगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अटारी पर लगाए गए देश के सबसे ऊंचे तिरंगे से पाकिस्तान डर गया है. उसका कहना है कि इससे भारत जासूसी कर सकता है. यह तिरंगा इतना ऊंचा है कि लाहौर से भी नजर आएगा. अटारी बॉर्डर से लाहौर की दूरी करीब 21 किलोमीटर है|

इसके अलावा रांची में 293 फीट का तिरंगा लहराया गया. पुणे के कटराज लेक में 237 फीट का तिरंगा फहराया जा चुका है. फरीदाबाद में अमित शाह ने 250 फीट, रायपुर के तेलीबांध झील के पास 269 फीट और हैदराबाद के हुसैन सागर लेकर के पास 291 फीट का तिरंगा फहराया जा चुका है|