गायत्री की जमानत के लिए हुई 10 करोड़ की डील में सीनियर जज भी शामिल!

275
SHARE

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता गायत्री प्रजापति को जमानत दिए जाने के लिए कथित तौर पर करीब 10 करोड़ रुपये की रिश्वत की लेन-देन हुई है। बताया जा रहा है कि करोड़ों रुपये की हुई इस घूसखौरी में कई पॉस्को कोर्ट के जज ओपी मिश्रा को और तीन वकील शामिल हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इलाहाबाद कोर्ट की ओर से मामले की जांच के आदेश दिए जाने के बाद ये जज दिलीप बी भोसले की रिपोर्ट से ये खुलासा हुआ है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज दिलीप बी बोसले की रिपोर्ट में बताया गया कि अपनी रिटायरमेंट से ठीक तीन हफ्ते पहले उन्हें 7 अप्रैल को पॉस्को कोर्ट का जज नियुक्त किया गया। इसके बाद प्रजापति की ओर से 24 अप्रैल को याचिका डाली गई और उन्हें 25 अप्रैल को जमानत मिल गई।

10 करोड़ की डील में तीन वकीलों को 5 और ओपी मिश्रा को 5 करोड़ रुपये कथित तौर पर दिए गए हैं। मामले में जज और तीनों वकीलों की मीटिंग भी कई बार हुई, जिसके बाद प्रजापति को जमानत दे दी गई।