तमिलनाडु और आंध्र में चक्रवाती तूफान को लेकर हाई अलर्ट

6
SHARE

बंगाल की खाड़ी से उठा समुद्री चक्रवात वरदा के अगले कुछ घंटो में चेन्नई के तट पर पहुंचने की आशंका है|चक्रवात से चेन्नई और उसके तटीय जिलों में भारी बारिश होने का ख़तरा है| तूफान को देखते हुए आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तटीय इलाकों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है|इस बीच तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश सरकारों ने तटीय इलाकों के सभी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सतर्कता बरतने और एहतियाती कदम उठाने का आदेश दिया है|

चक्रवर्तीय तूफ़ान वरदा का नाम पाकिस्तान ने दिया है| फ़िलहाल इस चक्रवात का असर बंगाल की खाड़ी में है| वरदा का मतलब है कि लाल गुलाब.. आज इसके उत्तरीय तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश को अपनी चपेट में लेने की आशंका है| बहरहाल जैसे-जैसे ये नज़दीक आएगा इसकी तीव्रता धीरे-धीरे कम होने की संभावना है|
तमिलनाडु में एनडीआरएफ की सात और आंध्र प्रदेश में छह टीमें भेजी गई हैं| वर्दा से निपटने के लिए वायुसेना को भी हाई अलर्ट कर दिया गया है| लोगों से अपील की गई है कि तूफान के दौरान वे पेड़ों के नीचे न खड़े हों और न ही अपनी गाड़ियों को उनके आसपास लगाएं|

 वहीं मौसम विभाग के मुताबिक, चेन्नई का तट पार करने से पहले इस चक्रवात के कमज़ोर हो जाने का अनुमान है| चक्रवाती तूफ़ान वरदा से निपटने के लिए तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश सरकार ने भी पूरी तैयारी कर ली है| मछुआरों से अगले 48 घंटे तक समंदर में नहीं जाने को कहा गया है| वरदा के कारण तमिलनाडु सरकार ने प्रभावित इलाक़ों में आज सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की है| इसके तहत स्कूल-कॉलेज और दफ़्तर बंद रहेंगे. आंध्र सरकार ने नेल्लोर, प्रकाशम, गुंटूर और कृष्णा जिले की प्रशासनिक मशीनरी को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हाई अलर्ट कर दिया है|

चक्रवाती तूफान वरदा के पुदुच्चेरी के तट तक भी पहुंचने की संभावना है| वरदा को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का फैसला किया है| वहीं पुदुच्चेरी के कराईकल में वरदा तूफान के चलते भारी बारिश होने की संभावना है| राज्य सरकार ने लोगों से अपील की वे आज घरों से निकलने से बचें| वहीं तूफ़ान को देखते हुए प्रशासन ने भी सही तैयारियां पूरी कर ली हैं|

चक्रवात वरदा के कारण आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में एनडीआरएफ की टीमें पहले ही तैनात हो गईं हैं| 40 सदस्यों की एक टीम ने आंध्र प्रदेश के नेल्लोर पहुंच कर अपनी तैयारी पूरी कर ली| वहीं एनडीआरएफ की 7 टीमों को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर, टाडा, सलूरपेटा, ओंगले, चित्तोर, विशाखापट्टनम में तैयात किया है, जबकि तमिलनाडु में 6 टीमें तैनात की गई हैं, जिनमें 3 टीम चेन्नई के लिए रवाना हुईं है|