तमिलनाडु और आंध्र में चक्रवाती तूफान को लेकर हाई अलर्ट

10
SHARE

बंगाल की खाड़ी से उठा समुद्री चक्रवात वरदा के अगले कुछ घंटो में चेन्नई के तट पर पहुंचने की आशंका है|चक्रवात से चेन्नई और उसके तटीय जिलों में भारी बारिश होने का ख़तरा है| तूफान को देखते हुए आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तटीय इलाकों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है|इस बीच तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश सरकारों ने तटीय इलाकों के सभी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सतर्कता बरतने और एहतियाती कदम उठाने का आदेश दिया है|

चक्रवर्तीय तूफ़ान वरदा का नाम पाकिस्तान ने दिया है| फ़िलहाल इस चक्रवात का असर बंगाल की खाड़ी में है| वरदा का मतलब है कि लाल गुलाब.. आज इसके उत्तरीय तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश को अपनी चपेट में लेने की आशंका है| बहरहाल जैसे-जैसे ये नज़दीक आएगा इसकी तीव्रता धीरे-धीरे कम होने की संभावना है|
तमिलनाडु में एनडीआरएफ की सात और आंध्र प्रदेश में छह टीमें भेजी गई हैं| वर्दा से निपटने के लिए वायुसेना को भी हाई अलर्ट कर दिया गया है| लोगों से अपील की गई है कि तूफान के दौरान वे पेड़ों के नीचे न खड़े हों और न ही अपनी गाड़ियों को उनके आसपास लगाएं|

 वहीं मौसम विभाग के मुताबिक, चेन्नई का तट पार करने से पहले इस चक्रवात के कमज़ोर हो जाने का अनुमान है| चक्रवाती तूफ़ान वरदा से निपटने के लिए तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश सरकार ने भी पूरी तैयारी कर ली है| मछुआरों से अगले 48 घंटे तक समंदर में नहीं जाने को कहा गया है| वरदा के कारण तमिलनाडु सरकार ने प्रभावित इलाक़ों में आज सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की है| इसके तहत स्कूल-कॉलेज और दफ़्तर बंद रहेंगे. आंध्र सरकार ने नेल्लोर, प्रकाशम, गुंटूर और कृष्णा जिले की प्रशासनिक मशीनरी को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हाई अलर्ट कर दिया है|

चक्रवाती तूफान वरदा के पुदुच्चेरी के तट तक भी पहुंचने की संभावना है| वरदा को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का फैसला किया है| वहीं पुदुच्चेरी के कराईकल में वरदा तूफान के चलते भारी बारिश होने की संभावना है| राज्य सरकार ने लोगों से अपील की वे आज घरों से निकलने से बचें| वहीं तूफ़ान को देखते हुए प्रशासन ने भी सही तैयारियां पूरी कर ली हैं|

चक्रवात वरदा के कारण आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में एनडीआरएफ की टीमें पहले ही तैनात हो गईं हैं| 40 सदस्यों की एक टीम ने आंध्र प्रदेश के नेल्लोर पहुंच कर अपनी तैयारी पूरी कर ली| वहीं एनडीआरएफ की 7 टीमों को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर, टाडा, सलूरपेटा, ओंगले, चित्तोर, विशाखापट्टनम में तैयात किया है, जबकि तमिलनाडु में 6 टीमें तैनात की गई हैं, जिनमें 3 टीम चेन्नई के लिए रवाना हुईं है|