सहारनपुर में चंद्रशेखर की रिहाई को लेकर प्रदर्शन, 150-160 दलित महिलाओं ने अपनाया बौद्ध धर्म

95
SHARE

सहारनपुर में जातीय हिंसा के बाद मुख्य आरोपी चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण की गिरफ्तारी का जिले में बड़ा विरोध हो रहा है। आज भी यहां पर दलित महिलाओं ने रावत की रिहाई को लेकर प्रदर्शन किया।

इस प्रदर्शन के बाद ही 150-160 दलित महिलाओं ने एसडीएम और सीओ के सामने ही बौद्ध धर्म अपना लिया। जातीय हिंसा के आरोप में जेल में बंद भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर आदाज उर्फ रावण की रिहाई की मांग को लेकर रामपुर मनिहारन तहसील में प्रदर्शन के बाद धरने पर बैठी करीब 150 दलित महिलाओं ने एसडीएम व सीओ के सामने हिन्दू धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म अपना लिया।

इसके बाद वह नारेबाजी करती हुईं पास के एक रजवाहे पर पहुंचीं और देवी देवताओं की मूर्तियां विसर्जित कर दीं। जातीय हिंसा को लेकर इससे पहले भी सहारनपुर व मुजफफरनगर में सैकड़ों दलित हिंदू धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म अपना चुके हैं।