सामान्य आपराधिक मामलों में पुलिस रात को कार्रवाई नहीं करेगी

95
SHARE

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य पुलिस को सिविल मामलों में रात में दबिश नहीं देने के निर्देश दिए हैं. यह जानकारी राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने दी. प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस जघन्य अपराध के अभियुक्त के अलावा अन्य सामान्य अपराध के अभियुक्तों के खिलाफ रात में कार्रवाई या वारंट तमील नहीं करेगी. प्रवक्ता के मुताबिक बीते रविवार की रात आशियाना थाना क्षेत्र में सिविल मामले में वारंट तामील कराने गए पुलिसकर्मियों द्वारा दुर्व्यवहार की घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने यह निर्देश दिए.

उन्होंने बताया कि राजधानी के एसपी (उत्तरी) अनुराग वत्स को सम्पूर्ण मामले की जांच कर दो दिन में रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं. दरअसल रविवार की देर रात पुलिस आशियाना निवासी अरविन्द सिंह के घर पहुंची. सिंह की बेटी का आरोप है कि पुलिस ने जबर्दस्ती घर में घुसने का प्रयास किया. इसके बाद उसने ट्वीट के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी, पुलिस महानिदेशक और अन्य अधिकारियों से पुलिस के दुर्व्यवहार की शिकायत की थी.

मुख्यमंत्री ने लखनऊ के गोमती नगर क्षेत्र में वाहन चेकिंग के दौरान सिपाही द्वारा युवती को डंडा मारे जाने की घटना को भी गंभीरता से लिया. उन्होंने घटना से संबंधित दोनों सिपाहियों को तत्काल प्रभाव से ससपेंड करने के निर्देश दिए, जिसके बाद सिपा​हियों को निलंबित कर दिया गया है.

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि एएसपी (लखनउ) चक्रेश मिश्र इस प्रकरण की जांच करेंगे. गोमती नगर के जनेश्वर मिश्र पार्क के सामने मंगलवार शाम को चेकिंग के दौरान पुलिस ने बाइक सवार युवक को डंडा मारा जो युवक के पीछे बैठी युवती की नाक पर लग गया. उसकी नाक टूट गई और वह बेहोश होकर नीचे गिर पड़ी थी.

source-NDTV