लखनऊ में डकैत ददुआ और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के नाम पर मकान पर कब्ज़ा

124
SHARE

लखनऊ में एक महिला समेत पांच लोगों के खिलाफ फ्लैट पर कब्जा करने के मामले में धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोप है कि महिला ने खुद को केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की सगी बहन होने का दावा किया, जबकि उसके साथी को ददुआ का रिश्तेदार होने की बात कही।

गोमतीनगर पुलिस ने मूलरूप से पंकज त्रिपाठी की तहरीर पर पंकज सिंह, पल्लवी पटेल, विशाल तिवारी, देवेंद्र प्रताप सिंह व विजय प्रताप सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस को दी तहरीर में पंकज त्रिपाठी ने कहा है 10 मई, 2013 को उन्होंने गोमतीनगर में विवेकखंड के मंगलम अपार्टमेंट में एक फ्लैट अतिंदर कौर के जरिये खरीदा था, जिसकी रजिस्ट्री उनके नाम है। वह फ्लैट में आते-जाते रहते थे। उन्होंने फ्लैट की देखरेख के लिए एक कमरा फतेहपुर के ग्राम धाता निवासी पंकज सिंह को दे रखा था।

आरोप है कि छह-सात माह पहले फ्लैट में परिवार सहित रहने के इरादे से उन्होंने पंकज सिंह को कमरा खाली करने को कहा। इस पर पंकज सिंह कोई न कोई बहाना बनाते रहे। इसके बाद फ्लैट में एक महिला भी रहने लगी। फ्लैट खाली करने की बात कहने पर महिला ने दावा किया कि पंकज सिंह ददुआ के रिश्तेदार हैं और मैं केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की सगी बहन हूं। हमने फ्लैट के कागजात तैयार करवा लिए हैं और तुम्हारे खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराएंगे। पंकज सिंह ने कहा कि ददुआ मर गए हैं, लेकिन उनके लोग नहीं। 15 दिन बाद फ्लैट से भी जाओगे और अपनी परिवार सहित जान से भी जाओगे। इस बीच चार-पांच लोग फ्लैट के भीतर आ गए और उन्हें असहले के जोर पर धमकाया। कहा कि सलामती चाहते हो तो फ्लैट खाली करके चले जाओ।

पंकज त्रिपाठी का आरोप है कि गोमतीनगर थाने में उनकी सुनवाई नहीं हुई। उल्टा दबाव के चलते पंकज सिंह की ओर से उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक, पंकज त्रिपाठी की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर जांच कराई जा रही है। इससे पूर्व पंकज सिंह ने गोमतीनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप है कि उन्होंने पंकज त्रिपाठी से फ्लैट खरीद लिया है लेकिन, वह कब्जा खाली नहीं कर रहे। हालांकि पंकज ने दस्तावेज पर उनके हस्ताक्षर न होने का दावा किया था। पुलिस मामले में हस्ताक्षर की जांच करा रही है। छानबीन के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस को दी गई तहरीर में पंकज त्रिपाठी पुत्र केशव प्रसाद त्रिपाठी निवासी रामगंज पक्का तालाब जिला फतेहपुर ने बताया है कि दिनांक 10 मई 2013 को एक फ्लैट मंगलम अपार्टमेंट में 1/36 विवेक खंड वार्ड राजीव गांधी नगर गोमती नगर लखनऊ में उपनिबंधक द्वितीय के यहां अतींद्र कौर के जरिए विक्रय विलेख क्रय किया था। पीडि़त ने फ्लैट की उचित देख रहे के लिए पंकज सिंह पुत्र निरंजन सिंह ग्राम धाता के पास जिला फतेहपुर को अपने फ्लैट का एक कमरा दे रखा था। कुछ दिनों से पंकज सिंह ने फ्लैट में एक महिला को भी रख लिया। बदनीयती सामने आई तब पीडि़त ने कहा मेरे बच्चों को परेशानी हो रही है कमरे को खाली कर दो। तब पंकज सिंह के साथ रह रही महिला ने कहा किया मकान पंकज सिंह का है।

पंकज त्रिपाठी ने बताया कि 30 मई 2017 को थाने पर मौजूद तत्कालीन इस्पेक्टर जुबेर ने कहा कि कल मैं फोन करूं तो अपने मूल दस्तावेज लेकर थाने पर दोनों पक्ष आ जाएं। पीडि़त गोमती नगर थाने रिपोर्ट दर्ज कराने गया, लेकिन गोमती नगर थाना ने किसी दबाव में आकर उसकी रिपोर्ट नहीं लिखी।