लखनऊ में परिचित का चालान काटने पर भाजपा पार्षद और दारोगा के बीच भिड़ंत, समर्थकों का हंगामा

109
SHARE

लखनऊ में मंगलवार देर शाम पत्रकारपुरम चौराहे पर परिचित के वाहन का चालान काटने पर नाराज भाजपा पार्षद राम कृष्ण यादव और दारोगा के बीच भिड़ंत हो गई, जिसके बाद सीओ गोमतीनगर समेत करीब छह थानों का पुलिस बल मौके पर पहुंचा। घटना में दारोगा ने भाजपा पार्षद को थप्पड़ जड़ दिया और खींचते हुए चौकी ले गया। सूचना पर समर्थक पहुंचे और उन्होंने चौराहे पर जाम लगाकर हंगामा शुरू कर दिया।

इस बीच कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक भी पहुंच गए उन्होंने पार्षद और समर्थकों को समझा-बुझाकर शांत कराकर दोनों दारोगाओं के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर पार्षद को लेकर साथ चले गए। सीओ गोमतीनगर मंगलवार देर शाम ट्रेनी दारोगा राहुल और सचिन पत्रकारपुरम चौराहे पर रुटीन चेकिंग कर रहे थे।

इस दौरान हुसड़िया चौराहे की तरफ से एक बाइक सवार आ रहा था। चेकिंग के बाबत दारोगा ने बाइक सवार को रोका। उसके पास आरसी नहीं थी तो दारोगा राहुल ने बाइक का चालान कर दिया। बाइक सवार ने फोन कर भाजपा पार्षद राम कृष्ण यादव को बुला लिया। दारोगा का आरोप है कि राम कृष्ण ने चालान काटने का विरोध करने के साथ ही धक्का मुक्की की। वहीं, पार्षद का आरोप है कि उन्होंने चौराहे पर जाम की स्थिति देखते हुए यातायात संचालन कराने का आग्रह किया।

इस पर दारोगा भड़क गए और उन्होंने साथी सचिन के साथ उनका कालर पकड़ लिया और चौकी तक खींचते हुए ले गए। पार्षद का कहना है कि दारोगा ने उन्हें थप्पड़ भी मारा। पार्षद और उनके समर्थक दोनों दारोगाओं पर कार्रवाई की मांग को लेकर चौराहे पर धरने पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे।

पार्षद राम कृष्ण यादव ने कहा, पत्रकारपुरम चौराहे पर जाम लगा था। वहीं दो दारोगा एक बाइक सवार छात्र का चालान कर रहे थे। मैं उधर से गुजरा तो छात्र ने मदद मांगी। इस पर मैंने दारोगा को परिचय देते हुए चालान न करने का आग्रह करते हुए जाम खुलवाने की बात कही तो दारोगा भड़क गए। उन्होंने कालर पकड़ कर अभद्रता की और थप्पड़ मारा।

वहीं सीओ दीपक कुमार के अनुसार, वाहन चेकिंग के दौरान पार्षद राम कृष्ण के किसी परिचित का चालान ट्रेनी दारोगा सचिन और राहुल ने कर दिया था। पार्षद का कहना था कि उन्होंने चालान छुड़वाने का आग्रह किया तो दोनों दारोगाओं ने उनका कालर पकड़ लिया। थप्पड़ मारा और खींचते हुए चौकी ले गए। दोनों दारोगाओं को थाने से हटाकर लाइन भेज दिया गया है।

घटना से करीब डेढ़ घंटे जाम लगा रहा। चालान कटने के बाद सात बजे हंगामा शुरू हुआ था। बड़ी संख्या में पार्षद समर्थक सड़क पर बैठकर दारोगाओं के निलंबन और मुकदमा दर्ज कराने की मांग को लेकर हंगामा कर रहे थे। इससे हुसड़िया, गोमतीनगर थाना, विवेकखंड तीन में वाहनों की लंबी कतार लग गई। हंगामा खत्म होने के बाद करीब डेढ़ घंटे बाद साढ़े आठ बजे यातायात सामान्य हो सका।