कश्मीरी पत्थरबाजों के लिए कन्नौज में ‘इत्र बम’ तैयार

67
SHARE

कन्नौज में कश्मीर में पत्थरबाजों को रोकने की लिए ‘इत्र बम’ बनाया गया है। यह बम पैलेट गन की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है। फ्रेग्रेंस एंड फ्लेवर डेवलपमेंट सेंटर (एफएफडीसी) में इस बम को तैयार किया है। इसे आंसू गैस छोड़ने वाली बंदूक के जरिये दागा जा सकेगा।

इत्र बनाने के लिए मशहूर कन्नौज में कैप्सूल के आकार का तेज बदबू वाला बम तैयार किया गया है। इस बम के फटने से धुआं उठेगा, जिसकी दुर्गंध को बर्दाश्त करना लोगों के लिए मुश्किल हो जाएगा। एफएफडीसी के प्रधान निदेशक शक्ति शुक्ला ने कहा कि ग्वालियर की रक्षा प्रयोगशाला में जल्द ही इसका परीक्षण किया जाएगा। परीक्षण सफल होने के बाद रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और रक्षा मंत्रालय की मंजूरी के बाद इसे सेना को सौंपा जाएगा। बता दें, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की पहल पर रक्षा मंत्रालय ने इसके परीक्षण को मंजूरी दी है। उन्होंने बताया कि यह एक छोटा दुर्गंध फैलाने वाले रसायन को कैप्सूल है। इसके फटने पर धुआं उठता है, जो कि बदबुदार है।

सुप्रीम कोर्ट ने भी केंद्र को पैलेट गन का ऑप्शन ढूंढने के निर्देश दिए थे। कोर्ट ने कहा था कि, ”जम्मू-कश्मीर में पैलेट गन के बजाय गंदा बदबूदार पानी, केमिकल युक्त पानी या ऐसा ही कोई विकल्प आजमा सकते हैं। इससे किसी को नुकसान नहीं पहुंचेगा।”