विकास के दो दुश्मन, पहला भ्रष्टाचार दूसरा उसका समय से न होना: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

30
SHARE

गोरखपुर में प्रवास के तीसरे दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को संबोधित किया, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसी भी विकास परियोजना के दो दुश्मन होते हैं। पहला होता है भ्रष्टाचार और दूसरा उसका समय से पूरा न होना। उन्होंने कहा कि सिर्फ तकनीक ही इन दोनों की काट है। आप तकनीक की उपाधि ले रहे हैं। संकल्प लिया है अब पूरा भी कीजिये। देश के विकास में अपना योगदान दीजिये।

मदन मोहन मालवीय प्रोद्यौगिकी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में मुख्यमंत्री ने उपाधि पाने वाले युवाओं को बधाई देने के साथ ही देश के लिए काम करने को भी कहा।

उन्होंने कहा अब शोध कार्य परंपरागत होते जा रहे हैं। प्रश्न किया कि क्या बाढ़- सूखा महामारियों के निदान के उद्वेश्य से कोई शोध कार्य हुआ। मैंने तो नहीं देखा और सुना। उन्होंने कहा कि आप लोग परंपरागत से अलग शोध करें। सिर्फ इस बात पर अपने को सीमित न कर लें कि डिग्री मिल गयी है, कहीं न कहीं नौकरी मिल ही जाएगी। अगर आप यह सोचते हैं तो फिर ज्ञान का उद्देश्य नहीं पूरा होगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुछ अलग सोचें, जो समाज के लिए उपयोगी हो। जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी का उल्लेख करते हुए अपनी प्रतिभा का उपयोग देश के लिए करने का योगी ने मंत्र दिया। उन्होंने कहा पैसे के लिए विदेश न जाएं। देश मे काम करें। ज्ञान-प्रतिभा का उपयोग देश के लिए करें।