“उत्तर प्रदेश में महिलाओं से रिलेटेड केसों की जांच में उनका हैरेसमेंट होता है”, केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी

4
SHARE

केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा – “उत्तर प्रदेश में महिलाओं से रिलेटेड केसों की जांच में उनका हैरेसमेंट होता है। बीजेपी सरकार आने पर एक हजार महिलाओं की पुलिस जांच टीम बनाएंगे। राज्य में महिलाएं 50% वोटर के तौर पर हैं, लेकिन पुलिस में महिलाएं की भागीदारी सिर्फ 4% है|”

यूपी के लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि यहां की सरकार महिलाओं की अनदेखी करती है। यही हाल पुलिस का है। जब महिलाएं पुलिस थानों में केस दर्ज कराने जाती हैं तो पुलिस वाले ही उनके साथ गैंगरेप करते हैं। बता दें कि स्मृति शनिवार को बीजेपी के मैनिफेस्टो में महिलाओं के लिए किए गए वादों को बताने के लिए यहां आई थीं|

स्‍मृति ने कहा- “सपा हर बार नौकरी का लालच देकर सरकार में आई है, लेकिन आज भी वो भर्तियों का लालच दे रही है।हमारी सरकार आने पर 120 दिनों के अंदर आशा बहुओं की पेमेंट दिलाएंगे।लड़कियों के स्कूल जाने पर रास्ते में छेड़छाड़ न हो इसलिए हम एंटी रोमियो दल बनाकर इसको रोकेंगे।बेटियों की पढाई के लिए बच्ची के क्लास के हिसाब से उसके अकाउंट में पैसों को जमा करेंगे और बच्ची के 21 साल पूरे होने पर उसको पैसे दिए जाएंगे|”

ईरानी ने अमेठी में प्रचार के सवाल पर कहा- “पार्टी जो तय करेगी और जैसा आदेश होगा वह काम करूंगी।अगर प्रचार करने को कहा जाएगा तो वहां जाकर प्रचार करूंगी|”
स्‍मृति से जब विनय कटियार के बयान के को लेकर पूछा गया तो वो नाराज हो गईंं। उन्‍होंने कहा- “जब मेरे बारे में वाड्रा कह रहे थे, तब क्यों प्रियंका गांधी ने विरोध नहीं किया। तब क्या प्रियंका गांधी ने माफी मांगी थी?” यूपी के लड़के और बाहरी मोदी के स्लोगन पर स्‍मृति बोलीं- “ये बचकानी बातें हैं, इस तरह तो यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट भी बात नहीं करते हैं|”