बरेली में कांवड़ यात्रा में डीजे पर पाबंदी से हिंदूवादी संगठनों का हंगामा

109
SHARE

कांवड़ यात्रा के दौरान डीजे पर पाबंदी लगाए जाने से हिंदूवादी संगठन के लोग भड़क गए। उन्होंने कोतवाली और एसपी सिटी दफ्तर में हंगामा काटा। पुलिस और प्रशासन पर जबरन परेशान करने के आरोप लगाकर नारेबाजी की।

उन्होंने कहा कि भक्तों के जयकारों और उत्साह के लिए साउंड लगाए जाते हैं, बिना साउंड के कांवड़ ही नहीं लेकर जाएंगे। बाद में शासन और सुप्रीम कोर्ट की तरफ से पाबंदी के आदेश बताए जाने पर किसी तरह शांत कराया जा सका।

यूपी सरकार के प्रमुख सचिव अरविंद कुमार और डीजीपी की तरफ से चार जुलाई को आदेश जारी किए गए हैं। इसमें डीजे को स्पष्ट तौर पर कांवड़ यात्रा के दौरान प्रतिबंधित किए जाने, कांवड़ दल के प्रमुख लोगों के नाम, पते, फोन नंबर एकत्र करने और यात्रा में साउंड सिस्टम लगाने के लिए प्रशासनिक अनुमति लेने के निर्देश हैं।

थानों की पुलिस ने इस आधार पर पाबंद करना शुरू कर दिया। पुलिस और प्रशासन की कार्रवाई से नाराज लोग कोतवाली पहुंच गए हैं। वहां से एसपी सिटी कार्यालय पहुंचकर हंगामा किया। बाग ब्रिगटान निवासी हरिओम मौर्या का कहना है कि हरिद्वार से जल लेकर गोला गोकर्णनाथ धाम में कांवड़ चढ़ाने जाना है। जत्थे में लगभग 30 लोग हैं। ऐसे लगभग 20 से 25 जत्थे साथ चलेंगे। पहले डीजे पर कोई पाबंदी की बात नहीं थी।