24 घंटे में 50 शेफ ने बनाई 918 किलो खिचड़ी, गिनीज बुक में भारत का नाम दर्ज

34
SHARE

इंडिया गेट पर आयोजित तीन दिवसीय वर्ल्ड फूड इंडिया 2017 में मशहूर शेफ संजीव कपूर द्वारा बनाई गई 918 किलो खिचड़ी गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की फेहरिस्त में शामिल हो गई है।

खिचड़ी बनाने में 50 शेफ 24 घंटे तक जुटे रहे। विश्व में पहली बार इतनी मात्रा में खिचड़ी बनाई गई है। वर्ल्ड फूड इंडिया में योग गुरु बाबा राम देव ने छौंक लगाकर खिचड़ी को तैयार करवाया। उन्होंने कहा कि खिचड़ी ही एक मात्र ऐसा फूड है, जिसमें हमारे शरीर के लिए सभी आश्वयक तत्व शामिल होते हैं।

उन्होंने कहा कि खिचड़ी सुपर फूड है जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और विश्वसनीय बनाना है। उन्होंने कहा कि सब मिले हुए हैं तो खिचड़ी है, यानि भारत में अगर सब एक साथ मिलकर रहेंगे तो ही एकता में अखंडा बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि खिचड़ी इतना बेहतर व्यंजन है कि हमें वर्ल्ड खिचड़ी-डे भी मनाना चाहिए।

इस मौके पर राज्य फूड एंड प्रोसेसिंग मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति भी उपस्थित थीं। वहीं केन्द्रीय फूड एंड प्रोसेसिंग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि खिचड़ी हमारी संस्कृति से जुड़ा व्यंजन हैं, जिसे गरीब से गरीब और अमीर से अमीर लोग भी खाना पसंद करते हैं।

उन्होंने कहा कि खिचड़ी के लिए अनाज हमारे किसान उगाते हैं और अगर खिचड़ी का प्रचार विश्व स्तर पर होगा तो इसकी डिमांड बढ़ने से भारत के किसानों को भी लाभ पहुंचेगा।

24 घंटे की मेहनत से तैयार हुई खिचड़ी भारत के प्रसिद्ध शेफ संजीव कपूर ने कहा कि खिचड़ी को करीब 24 घंटे में भारत के सम्पूर्ण आहार के संयोजन से तैयार गया है। इस खिचड़ी में ढाई हिस्सा चावल और एक हिस्सा दाल के अलावा तमाम तरह के मसाले डाले गए हैं।

खिचड़ी को बनाने में 49 अन्य शेफ ने भी उनकी मदद की है। उनका कहा था कि खिचड़ी खाने से हमारा शरीर स्वस्थ्य रहता है और हम फिट रहते हैं। इस खिचड़ी को स्टील की एक बड़ी कढ़ाई में तैयार किया गया, जिसका वजन 918 किलो दर्ज हुआ।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की महिला अधिकारी पाउलिन ने कहा कि उन्हें खिचड़ी बहुत ही पसंद आई और यह पहली बार है कि विश्व में किसी देश ने इतनी मात्रा में खिचड़ी तैयार की। उन्होंने कहा कि भारत के इस खिचड़ी रिकॉर्ड को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल करते हुए उन्हें बेहद खुशी हुई है।