अखिलेश के लिए लड़ा था और आगे भी लड़ता रहूँगा : रामगोपाल यादव

24
SHARE

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद प्रो. रामगोपाल यादव ने गुरुवार को अपना 71वां जन्मदिन बड़े ही धूमधाम से सैफई मनाया। हालांकि, इस दौरान यादव परिवार में एक बार फिर रिश्तों की दूरियां साफ नजर आईं। वहीं कार्यक्रम के दौरान बीच में रामगोपाल यादव भी अचानक भड़क उठे।

प्रो. रामगोपाल के जन्मदिन पर सैफई में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव मौजूद थे। लेकिन अखिलेश के पिता व सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल सिंह यादव कार्यक्रम से नदारद रहे। इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) रामगोपाल जी से नहीं, बल्कि मुझसे नाराज हैं। ये बात मुझसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताई थी। हालांकि आज नेताजी यहां होते तो जन्मदिन का आनंद कुछ और ही होता। इस दौरान अखिलेश यादव ने अपने चाचा व पार्टी नेता रामगोपाल को जन्मदिन की बधाई दी। वहीं, अपने जन्मदिन पर प्रो. रामगोपाल यादव ने कहा कि पार्टी में जब विवाद हुआ था, तब मैंने कहा था कि अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाने के लिए लड़ता रहूंगा। पार्टी में रहें या नहीं, लेकिन आज आपसे समर्थन मांगता हूं। उन्होंने कहा कि आप सभी अपना हाथ उठाकर समर्थन मेरा किजीए। इस पर कार्यक्रम में मौजूद कार्यकर्ताओं ने हाथ उठाकर उनका समर्थन किया और अखिलेश यादव जिंदाबाद, रामगोपाल यादव जिंदाबाद के नारे लगाने लगे। हालांकि, इस पर पार्टी के महासचिव रामगोपाल भड़क उठे।