मैं सीएम बनने के योग्‍य योगी आदित्‍यनाथ, अखिलेश को बताया ‘चंगू’

62
SHARE

भारतीय जनता पार्टी सांसद और गोरक्षपीठ के पीठेश्वर योगी आदित्यनाथ से जब पूछा गया कि उनमें मुख्यमंत्री बनने की सभी योग्यताएं हैं|  उन्होंने कहा, ‘हां, मुझमें मख्यमंत्री बनने की सभी योग्यताएं हैं|’ जब उनसे पूछा गया कि क्या तीन योग्यताएं योगी आदित्यनाथ में हैं तो उन्होंने कहा, ‘मैं तो सर्वज्ञ हूं|’ मंगलवार को एक निजी समाचार चैनल के कार्यक्रम में ‘भाजपा से मुख्यमंत्री कौन होगा’, इस सवाल का जवाब देते हुए आदित्यनाथ ने कहा, ‘यहां के मुख्यमंत्री में तीन तरह की विशेषताएं होनी चाहिए| सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक| हर नागरिक को सुरक्षा देने के साथ-साथ राज्य को विकसित करने का जज्बा उसमें होना चाहिए|’ क्या आप इन विशेषताओं को पूरा करते हैं, इस सवाल के जवाब में आदित्यनाथ ने मुस्कराते हुए कहा, ‘मैं सर्वज्ञ हूं, लेकिन मैं एक योगी और एक सांसद हूं| मैं अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहा हूं|’

उत्तर प्रदेश में बिजली पर हो रही राजनीति पर योगी ने कहा, ‘यहां बिजली की आपूर्ति में भेदभाव होता है| यहां हिंदू-मुस्लिम के आधार पर बिजली बांटी जाती है| हम इस भेदभाव को दूर कर विकास की नीति अपनाएंगे| यह प्रत्यक्ष देखा जा सकता है कि देवीपाटन मंदिर में केवल चार घंटे बिजली दी जाती है और वहां की मजार पर 24 घंटे बिजली दी जाती है और यह स्थिति पूरे प्रदेश की है|’

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि प्रधानमंत्री बिजली के तार को छूकर देख लें कि करंट है या नहीं| इस पर योगी ने कहा, “मैंने बचपन में एक कहानी पढ़ी थी ‘चंगू और मंगू’ की| तो, मैं अखिलेश को चंगू ही मानता हूं|” अखिलेश पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि जिस पुत्र ने अपने पिता को किनारे कर दिया हो, उनके विषय में जनता सब जान चुकी है| विपक्षी दलों पर हमला करते हुए आदित्यनाथ ने कहा, ‘हम देश तोड़ने वालों को तोड़ने का काम कर रहे हैं| देश में एक और कश्मीर बनने से रोकना होगा|’

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर उन्होंने कहा कि यह गठबंधन बेमेल है, इससे भाजपा के पक्ष में लहर पैदा हुई है| सपा और बसपा ने प्रदेश में कोई विकास नहीं किया| उन्होंने कहा कि गोरखपुर में भाजपा सभी सीटें जीतने जा रही है|