मेरठ जिला प्रशासन ने हटाये हिंदू युवा वाहिनी के होर्डिंग

44
SHARE

मेरठ में हिंदू युवा वाहिनी द्वारा विवादित होर्डिंग के मामले पर वाहिनी ने कहा कि यह उनके नाम को खराब करने के लिए किया गया है, जिला प्रशासन ने होर्डिंग को हटवा दिया है|

होर्डिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा युवा वाहिनी के मेरठ के जिलाध्यक्ष नीरज शर्मा पांचली की तस्वीर लगी हुई थीं और लिखा था ‘प्रदेश में रहना है तो योगी-योगी कहना है’

वाहिनी क्षेत्रीय अध्यक्ष नागेंद्र तोमर का कहना है कि नीरज शर्मा को भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते पिछले महीने संस्था से बर्खास्त कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि वाहिनी का इस होर्डिंग से कोई लेना-देना नहीं है और योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि वह अनुशासन में रहें और काम जिम्मेदारी से करें।
तोमर का कहना है कि उन्होंने ही बीएसपी से आए हुए नीरज शर्मा पांचली को जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी थी। अधिकारियों पर दबाव बनाने और अन्य शिकायत मिलने के बाद उसे पद से हटा दिया गया था। इसकी सूचना वह अधिकारियों को भी दे चुके हैं। एसएसपी से मिल कर सीएम की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग करेंगे। एसएसपी का कहना है कि शासन का स्पष्ट निर्देश है कि इस तरह के कामों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।