फासीवादी ताकतों के लिए मैं आइटम गर्ल बन गया हूँ : आजम खान

46
SHARE

उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सपा नेता आजम खान सेना पर बेहद आपत्तिजनक बयान देकर फंस गए हैं. अब आजम खान ने अपने बचाव में कहा है कि मैंने सेना पर रेप का आरोप नहीं लगाया है. मेरे बयान को गलत तरीके से लिया गया है. मैंने अखबार में छपी खबरों के आधार पर अपनी बात रखी. गौरतलब है कि हाल ही में छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमलों में शहीद सुरक्षाकर्मियों के प्राइवेट पार्ट्स काटे जाने की खबरें सामने आई थीं.

आजम खान ने कहा कि देश का दलित-मुसलमान परेशान है. मैं फासीवादी ताकतों का आइटम गर्ल बन गया हूं. बीजेपी के लिए मैं नफरत का एजेंडा हूं. मेरे खिलाफ नफरत फैलाकर बीजेपी को वोट मिलते हैं. मुझसे प्यार कीजिए, नफरत मत कीजिए. मैं बच्चों को पढ़ाता हूं, यूनिवर्सिटी चलाता हूं. मैंने मेडिकल कॉलेज बनाया है. छोटे घर में रहता हूं. मेरा काम देखिए.

दरअसल आजम खान ने कहा था कि कश्मीर में जवानों को महिलाओं ने पीटा है. उन्होंने कहा कि कश्मीर में महिलाओं ने फौजियों के अंग काट लिए. असम और झारखंड में भी महिलाओं ने फौजियों को पीटा है. उन्होंने कहा कि मोदी राज में देश राह से भटक गया है. देश बैलेट की जगह बुलेट के मार्ग पर चल पड़ा है, जिसका परिणाम सभी के सामने है.

वहीं, सेना पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर बीजेपी ने आजम खान पर निशाना साधा है. बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि आजम खान जैसे लोग आतंकवाद के बचाव में बयान देते हैं. वह हमेशा ऐसा करते आ रहे हैं. वह कभी यह बयान देते हैं कि केवल मुसलममानों के कारण जीत हुई थी. सेना पर विवादित बयान देते हुए आजम ने कहा कि ऐसे घटनाओं से देश को शर्मिंदा होना चाहिए. संबित पात्रा ने उन्हें आईएसआई का एजेंट बताया. सपा से निष्कासित पूर्व प्रवक्ता दीपक मिश्र ने कहा कि आजम को ऐसा नहीं कहना चाहिए. इस तरह के बयान देने से सेना का विश्वास कमजोर होने लगता है. उन्हें इस तरह का विवादित बयान नहीं देना चाहिए.