रायबरेली हत्याकांड में मृतक की पत्नी ने आर्थिक मदद ठुकराई, बोली अब तक किसी ने आने की जरूरत महसूस नहीं की

83
SHARE

सामूहिक हत्याकांड में सरकार ने मृतकों के परिवार को पांच-पांच लाख रुपये देने का एलान किया है, मृतक रोहित शुक्ला की पत्नी कुसुम ने कहा कि उनका सुहाग उजड़ गया। इस सिंदूर की कोई कीमत नहीं दे सकता है। उन्होंने इस बात पर गहरी नाराजगी जताई कि इतनी बड़ी घटना के बावजूद आज तक इस गांव में रायबरेली से लेकर प्रतापगढ़ तक के जिलाधिकारी या एसपी ने आने की जरूरत महसूस नहीं की। जबकि, वे लोग असुरक्षा के साये में जी रहे हैं।

कुसुम शुक्ला ने कहा कि इतनी बड़ी घटना के बावजूद आज तक प्रदेश सरकार का कोई भी मंत्री व विधायक उनके यहां नहीं पहुंचा। इसलिए उन्हें सरकारी मदद नहीं चाहिए। अगर सरकार सचमुच उन लोगों के प्रति गंभीर है तो उनके बेटे को नौकरी दे ताकि उनकी आगे की जिंदगी कट सके। उन्होंने साफ कहा कि उन्हें पांच लाख रुपये की सहायता नहीं चाहिए।

उधर, मृतक अनूप मिश्रा की मां राजकुमारी व अनूप की पत्नी शिखा, बेटा आजाद ने कहा कि मौजूदा सरकार कुछ देना चाहती है तो वह पांच के स्थान पर 20-20 लाख रुपये की मदद करे और बहू को नौकरी दे, जिससे आगे की जिंदगी पार हो सके।