मऊ में सहेलियों के समलैंगिक संबंधों के कारण बालिका की हत्या

116
SHARE

मऊ के मुहम्मदाबाद नगर के मुहल्ला बिचलापुरा में गत 16 नवंबर को एक अहाते से मिले चार वर्षीय बच्ची के शव के मामले में जांच कर रही पुलिस ने रविवार को बताया की समलैंगिक संबंधों के कारण बालिका की मौत हुई है।

एडिशनल एसपी शिवाजी शुक्ला ,पुलिस उपाधीक्षक अनिल कुमार सिंह, कोतवाली प्रभारी आरके द्विवेदी ने रविवार को थाने में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि आरोपी लड़की एवं मृत बच्ची की बड़ी बहन के बीच समलैंगिक संबंध रहा है।

कोतवाली प्रभारी आरके द्विवेदी ने बताया कि वारिस हुसैन की चार वर्षीय पुत्री इस्मत 11 नवम्बर को चेहल्लुम के दिन गायब हो गई थी। पिता ने 13 नवंबर को थाने में अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। 16 नवंबर को बालिका के घर के बगल में बच्ची का शव मिला।

पुलिस ने बताया कि आरोपी लड़की और मृतक बच्ची की बड़ी बहन कक्षा 10 और 11 की छात्रा हैं। इन दोनों में समलैंगिक संबंध था जो एक दूसरे से प्रेम करती थीं। इसकी जानकारी पर पिता ने अपनी बेटी को किसी दूसरे स्थान पर भेज दिया। इधर आरोपी लड़की हमेशा उसकी तलाश में रहती थी। आरोपी लड़की ने पुलिस को बताया कि गत 11 नवम्बर को वह चेहल्लुम के दिन अपने पुराने मकान में इस उद्देश्य से आई कि त्योहार पर उसकी सहेली अवश्य मिलेगी।

इस बीच तो इस्मत जहरा और उसकी छोटी बहने खेल रही थीं। आरोपी लड़की ने मृतका से उसकी बड़ी बहन के बारे में पूरी जानकारी लिया। आरोपी लड़की ने सोचा कि कहीं से कोई देख न ले, इसके लिए मृतका को वहीं रुकने के लिए कहा। बच्ची रोने लगी तो उसका मुंह जोर से दबा दिया।

इस दौरान बच्ची का शरीर ठंडा पड़ गया तो पानी पिलाने लगी लेकिन तब तक बच्ची की मौत हो गई थी। डर से बच्ची के शव को कमरे में स्थित लकड़ी और बालू के बीच छिपा दिया और कमरा बंद करके अपने घर चली गई।