आगरा में समलैंगिक लड़कियों ने सामूहिक विवाह सम्मेलन में की शादी, नहीं लगी किसी को भनक

184
SHARE

आगरा के भीम नगरी में सामूहिक विवाह सम्मेलन में दो समलैंगिक युवतियों ने शादी कर ली। एक लड़की ने खुद को लड़के की तरह प्रेजेंट किया था। शादी तक किसी को इस बात की भनक तक नहीं लग पाई कि दूल्हा कोई लड़का नहीं, बल्कि लड़की है। इसके लिए इन दाेनों ही बहुत ही सुनियोजित प्लान बनाया था।

थाना एत्माउद्दौला के बुद्ध विहार की रहने वाली BSc की छात्रा कार्तिक उर्फ सोनिया और BA की छात्रा प्रीति की एक साल पहले कम्प्यूटर क्लास के दौरान दोस्ती हुई थी। यह दोस्ती बात में समलैंगिक रिश्ते में बदल गई। दोनों युवतियां आपस में शादी करना चाहती थीं, लेकिन उन्हें परिजनों का डर था।

जिसके बाद सोनिया ने खुद को लड़के के तौर पर प्रेजेंट किया और भीम नगरी में आयोजित परिचय सम्मेलन में अपना रजिस्ट्रेशन करा लिया।

लड़का बनी सोनिया ने प्रीति के परिजनों से अपने नकली परिवार को मिलवाया। प्रीति के परिजनों को अंदाजा भी नहीं हो सका कि सोनिया लड़का नहीं, बल्कि लड़की है।

प्रीति के परिजनों ने भीम नगरी में हुए सामूहिक सम्मेलन में अपनी बेटी का पूरे रीति-रिवाजों के साथ विवाह कर उसे विदा किया।

सामूहिक विवाह की तस्वीरें शेयर होने पर सच्चाई सामने आई। परिजनों के समझाने पर भी जब दोनों अलग होने को तैयार नहीं होने पर मामला पुलिस के पास तक पहुंचा। सोनिया ने थाने में खुद को बालिग बताते हुए कहा कि उन्होंने साथ रहने के लिए ही यह प्लान बनाया था।