PM पद के लिए प्रणब थे बेहतर उम्मीदवार, मेरे पास तब विकल्प नहीं था

21
SHARE

शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रणब मुखर्जी की किताब ‘द कोलिशन इयर्स’ (1996-2012) के विमोचन कार्यक्रम में बताया,”जब वह पीएम बने तो पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी दुखी थे।”

मनमोहन सिंह ने बताया कि ‘इस सर्वोच्च पद के लिए मुझे चुना गया लेकिन प्रणब इस पद के लिए ज्यादा बेहतर उम्मीदवार थे, लेकिन तब मेरे पास कोई विकल्प नहीं था। प्रणब को इस पर शिकवा करने का पूरा हक है।’

उन्होंने आगे कहा कि ‘मेरा राजनेता बनना महज एक इत्तेफाक था। कांग्रेस प्रेसिडेंट सोनिया गांधी ने 2004 में मुझे पीएम पद के लिए चुना यह चौंकाने वाला था, लेकिन मैं क्या कर सकता था। प्रणब जी हमारे प्रतिष्ठित सहयोगियों और हमारे देश के महानतम राजनेताओं में से एक हैं।’

राष्ट्रपति की किताब के विमोचन के मौके पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, सीताराम येचुरी समेत कई बड़े नेता भी मौजूद थे।